अम्बिकापुरछत्तीसगढ़

हत्या के मामले मे आरोपी पुत्र कों चंद घंटे के भीतर किया गया गिरफ्तार..

Views: 51

Share this article

थाना उदयपुर पुलिस टीम द्वारा मामले मे आरोपी के विरुद्ध की गई सख्त वैधानिक कार्यवाही*।
रोकने टोकने की बात से नाराज होकर आवेश मे आकर आरोपी द्वारा पिता कों टांगा से गंभीर चोट कारित की गई थी हत्या*।
🔷 *आरोपी के निशानदेही पर घटना मे प्रयुक्त टांगा किया गया जप्त*।


⏩ सरगुजा पुलिस द्वारा जारी अभियान *”ऑपरेशन विश्वास”* के तहत आपराधिक गतिविधियों मे संलिप्त आरोपियों के विरुद्ध लगातार सख़्ती से कार्यवाही कर आरोपियों की धरपकड़ की जा रही हैं, इसी क्रम मे मामले का संछिप्त विवरण इस प्रकार हैं कि प्रार्थी रामसुन्दर साकिन दौलतपुर थाना उदयपुर द्वारा दिनांक 06/06/24 कों थाना उदयपुर आकर सूचना दर्ज कराया कि प्रार्थी का पिता दिनांक 04/06/24 से दिख नही रहा था और घर के बाहर ताला लगा हुआ था, आज दिनांक कों पुनः घर पर जाकर देखने से घर के अंदर से बदबू आने पर अपने भाइयो और गाँव वालो के समक्ष घर का ताला तोड़कर देखा गया तो प्रार्थी का पिता दशरथ खाट मे मृत हालत मे पड़ा था और कम्बल से ढका हुआ था और खाट के निचे खून गिरकर जम गया था और मृतक के साथ रहने वाला उसका पुत्र ठाकुर राम घटना दिनांक से फरार हैं, प्रार्थी की सूचना पर थाना उदयपुर मे मर्ग क्रमांक 53/24 धारा 174 जा. फौ. कायम कर जांच मे लिया गया।



⏩ दौरान मर्ग जांच घटनास्थल का निरीक्षण कर शव पंचनामा की कार्यवाही कर मामले मे गवाहों के कथन एवं शार्ट पीएम रिपोर्ट के आधार पर मृतक दशरथ की हत्या गले में धारदार हथियार से चोट पहुंचाकर होना पाया जाने से मामले के संदेही मृतक के छोटे पुत्र ठाकुर राम के विरुद्ध अपराध क्रमांक 123/24 धारा 302 भा.द.वि. का अपराध पंजीबद्ध कर विवेधना में लिया गया। विवेचना दौरान पुलिस टीम द्वारा मामले के संदेही का पता तलाश किया जा रहा था, पुलिस टीम के सतत प्रयास से संदेही की घेराबंदी कर पकड़कर पूछताछ करने कर आरोपी द्वारा अपना नाम ठाकुर राम उम्र 23 वर्ष साकिन दौलतपुर मुड़ापारा थाना उदयपुर का होना बताया, आरोपी से घटना के सम्बन्ध मे पूछताछ किये जाने पर बताया कि मृतक दशरथ द्वारा आरोपी कों बार बार किसी भी बात पर रोकता टोकते रहता था दबाव बनाता था, किसी भी कार्य को करने से मना करता था,जिस बात पर नाराज होकर आरोपी घटना दिनांक 04/06/24 कों सुबह घर में रखे टांगा से अपनी पिता दशरथ कों गले में गंभीर चोट कारित कर हत्या कर शव को कंबल से ढक कर कमरे में ताला लगाकर घर से निकल जाना तथा दूसरे दिन पुनः घर आकर शव को गढ्‌ढा खोदकर छिपाने के लिए अपने मकान के पीछे बाड़ी में गढ़ढा खोदना बताया तथा मृतक के शव को वहां तक उठाकर पीछे बाठी तक ले जाने में असमर्थ होने पर मृतक के शव को गढ्ढे में छिपा नहीं पाया पुनः कमरे का ताला लगाकर मौक़े से फरार हो जाना बताया, आरोपी द्वारा अपराध घटित करना स्वीकार किये जाने पर आरोपी के निशानदेही पर घर के बगल कमरे में छीपा कर रखा टांगा बरामद कराया, आरोपी के विरुद्ध अपराध सबूत पाये जाने से गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा मे भेजा जाता हैं।

⏩ सम्पूर्ण कार्यवाही मे थाना प्रभारी उदयपुर निरीक्षक कुमारी चंद्राकर,सहायक उप निरीक्षक दिलिप दुबे, आरक्षक अजय शर्मा सुरेन्द्र बारी,देवेंद्र सिंह विजय कुमार पैकरा, विवेक सिंह शामिल रहे।

सरगुजा जिले में जप्त वाहनों की नीलामी करेंगी सरगुजा पुलिस वाहनों की संख्या 600 से 1000 तक होंगी
Loksabha Election 2024: PM मोदी ने वाराणसी से लगातार तीसरी बार जीता लोकसभा चुनाव…क्या फिर से बनेंगे प्रधानमंत्री?

ताजा खबर

जीवन शैली

खेल

गैजेट

देश दुनिया

You May Also Like