छत्तीसगढ़

बड़े एक्शन की तैयारी में EOW-ACB, जमानत पर रिहा लोगों से हो सकती है पूछताछ…

Views: 115

Share this article

ईडी की एफआईआर के बाद एजेंसी के मुख्यालय में हलचल तेज

रायपुर । बहुचर्चित कोयला घोटाले में जेल में बंद 11 में से दूसरे आरोपी सुनील अग्रवाल को सुप्रीम कोर्ट से 6 हफ्ते की अंतरिम जमानत मिली है। हालांकि सोमवार को रायपुर की कोर्ट में जमानतदार पेश करने के बाद उसकी रिहाई संभव है, लेकिन बड़ी खबर यह आ रही है कि इसी केस में एसीबी-ईओडब्लू ने अपने यहां हुई एफआईआर पर बड़े एक्शन की तैयारी शुरू कर दी है।शनिवार-रविवार को इस केस के सिलसिले में एजेंसी के मुख्यालय में हलचल दिखाई दी है। प्रवर्तन निदेशालय ने कोल स्कैम में एसीबी-ईओडब्लू में चारसौबीसी की एफआईआर करवाई है। इसमें दो पूर्व मंत्री अमरजीत भगत और कवासी लखमा, दो आईएएस समीर बिश्नोई और रानू साहू और कांग्रेस के छह पूर्व विधायकों समेत इस केस के प्रमुख आरोपियों सौम्या चौरसिया और सूर्यकांत तिवारी के नाम भी हैं। ईओडब्लू की टीम इस मामले में अप्रैल में सूयर्कांत, सौम्या समेत आधा दर्जन लोगों से जेल में जाकर पूछताछ कर चुकी है। चर्चा यह है कि जिन लोगों को जमानत मिलेगी, उन्हें भी हिरासत में लेकर ईओडब्लू की टीम फिर पूछताछ कर सकती है।

कोयला घोटाले में ईओडब्लू ने अप्रैल से अब तक डेढ़ दर्जन लोगों को नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए अपने दफ्तर बुलवा लिया था।  इसी स्कैम में ईडी ने दो आईएएस, एक राज्यसेवा अफसर, माइनिंग अफसर तथा कारोबारियों पर छापे मारकर 222 करोड़ रुपए की संपत्ति अटैच कर रखी है। जिन लोगों को ईडी ने जेल भेजा था, उनमें सुनील अग्रवाल को शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम राहत मिली है। ईडी ने इस मामले में जिनके खिलाफ एफआईआर की है, उनमें पूर्व विधायकों से भी पूछताछ की जा चुकी है। लेकिन ईओडब्लू में ईडी ने जो एफआईआर करवाई है, उसमें दो पूर्व मंत्रियों लखमा और भगत के नाम भी हैं, लेकिन अभी किसी एजेंसी ने दोनों को टच नहीं किया है।

रामगोपाल समेत कई पूर्व विधायकों के नाम एफआईआर में
कोल स्कैम में ईडी की ओर से ईओडब्लू में दर्ज एफआईआर में शामिल पूर्व मंत्री लखमा और देवेंद्र याादव अब भी विधायक हैं। ईडी ने देवेंद्र के यहां छापेमारी भी की थी और उन्हें दो-तीन बार पूछताछ के लिए बुलाया जा चुका है। कांग्रेस के कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल ईडी और ईओडब्लू, दोनों ही केस में आरोपी हैं। ईओडब्लू में हुई एफआईआर में आरोपी बनाए गए पूर्व विधायकों में बृहस्पत सिंह, गुलाब कमरो, शिशुपाल सोरी, चंद्रदेव राय और यूडी मिंज भी हैं। खबर मिली है कि ईओडब्लू से इस केस में जल्दी ही सभी आरोपियों को फिर नोटिस भेजे जाने वाले हैं।

Tags: ,
प्रेमी युवक-युवती में हुआ विवाद….प्रेमी ने कुल्हाड़ी मारकर कर दी प्रेमिका की हत्या..
CG – चार अस्पतालों को नोटिस जारी, इस वजह से हुई बड़ी कार्रवाई…जानिए क्या है पूरा मामला….

ताजा खबर

जीवन शैली

खेल

गैजेट

देश दुनिया

You May Also Like