छत्तीसगढ़

भूपेश पर नहीं रहा भरोसा, इसलिए दिल्ली के नेता कर रहे घोषणाएं : डॉ. रमन सिंह

Views: 125

Share this article

प्रियंका गांधी की घोषणाओं पर डॉ. रमन की प्रतिक्रिया

रायपुर । खैरागढ़ में कांग्रेस की सभा में पहुंची प्रियंका गांधी ने सोमवार को कई घोषणाएं की, जिसपर पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

उन्होंने कांग्रेस की पहली घोषणा, सिलेंडर रिफिल करने पर 500 रुपए की सब्सिडी देने को लेकर कहा कि पहले कांग्रेस सिर्फ़ वादे कर जनता को छलती है, न केवल गैस सिलेंडर में सब्सिडी बल्कि गरीबों को उज्जवला योजना के माध्यम से गैस सिलेंडर देने का काम भी हमारे माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार ने किया है।

200 यूनिट तक बिजली फ्री देने को लेकर कहा कि कांग्रेस ने पहले भी बिजली बिल हाफ करने का वादा किया था, बिल तो हाफ नहीं हुआ बल्कि बिजली ही हाफ हो गई, वहीं पिछले 15 साल में भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने न सिर्फ़ प्रदेश के सुदूर अंचलों तक बिजली पहुंचाई बल्कि छत्तीसगढ़ को जीरो पावर कट राज्य बनाया।

प्रियंका गांधी द्वारा महिला स्व-सहायता समूहों की ऋण माफी के वादे को लेकर पूर्व सीएम ने कहा कि इस कांग्रेस सरकार ने सबसे अधिक दुर्दशा प्रदेश में महिलाओं की ही की है जिन महिला स्व सहायता समूह को प्रलोभन देने का काम कांग्रेस कर रही है पिछले 5 साल में उन्हीं महिला स्वसहायता समूहों से रेडी टू ईट का काम छीनकर प्राइवेट ठेकेदार के हाथों में देने का काम इस कांग्रेस सरकार ने किया है, प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा समाप्त हो चुकी है, राजधानी रायपुर के एएसपी ऑफिस की पार्किंग में नाबालिग का बलात्कार होता है और प्रियंका गांधी छत्तीसगढ़ आकर महिलाओं से वोट मांगती हैं।

आगामी वर्षों में 700 नवीन ग्रामीण औद्योगिक पार्कों की स्थापना की घोषणा को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली बार राहुल गांधी ने घोषणा पत्र में 200 फूड पार्क बनाने का वादा किया था जिसमें से आज तक 2 फूड पार्क का भी निर्माण नहीं किया और एक बार फिर इस छलावे को और बड़े स्तर पर लाकर जनता को छलने का प्रयास कर रही है।

राज्य के सभी सरकारी स्कूल को स्वामी आत्मानंद इंग्लिश एवं हिन्दी मीडियम स्कूलों में अपग्रेड करने की घोषणा पर पूर्व सीएम ने कहा कि पिछले 5 साल में कांग्रेस की सरकार ने छत्तीसगढ़ को शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ाने का नहीं बल्कि पछाड़ने का काम किया है, कांग्रेस सरकार के आने के बाद छत्तीसगढ़ शिक्षा के क्षेत्र में केंद्रशासित प्रदेशों से भी पिछड़कर 34वें स्थान पर आया गया जबकि भाजपा की सरकार में हमने पिछले 15 साल में 40000 से ज्यादा स्कूलों का निर्माण किया, आदिवासी अंचलों तक स्कूल, कॉलेज, मेडिकल कॉलेज, आदि के माध्यम से शिक्षा का विस्तार किया जहां भाजपा की सरकार में NIT, IIT, IIM, IIIT, HNLU और AIMS जैसे शैक्षणिक संस्थान आए, बस्तर में एजुकेशन हब बना, प्रियंका गांधी जिन स्वामी आत्मानंद स्कूलों की बात कर रही हैं कांग्रेस सरकार ने उनमें एक ईट तक नहीं लगाया वो सभी स्कूल भवन भाजपा के कार्यकाल में बने हैं कांग्रेस ने सिर्फ़ नाम बदलकर भाजपा सरकार के कार्यों का श्रेय लेने का काम किया है।

इसके अलावा छत्तीसगढ़ के निवासियों के सड़क दुर्घटनाओं में तथा अन्य आकस्मिक दुर्घटनाओं में मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना के तहत नि:शुल्क इलाज की घोषणा पर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने दुर्घटनाएं देने का काम किया है और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार ने इलाज देने का काम किया है, आयुष्मान भारत योजना के तहत 5 लाख के इलाज की सुविधा किसी ने दी है तो भाजपा की सरकार ने दी है, छत्तीसगढ़ में 60 हजार किलोमीटर से ज्यादा सड़कों का विस्तार किसी ने बढ़ाया है तो भाजपा की सरकार ने बढ़ाया है, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ को कुछ दिया है तो सड़कों पर गड्ढे, मवेशी और सड़क दुर्घटना में छत्तीसगढ़ को नंबर 1 पर ले आए हैं।

कांग्रेस ने अपनी पिछली घोषणा पत्र का 1 भी वादा ठीक से पूरा नहीं किया है तो जनता इनके झूठे वादों में नहीं फंसने वाली छत्तीसगढ़ की जनता का भरोसा भूपेश से समाप्त हो गया है इसलिए कांग्रेस अपने केंद्रीय नेताओं को बुलाकर वादे करवा रही है लेकिन छत्तीसगढ़ कांग्रेस की भ्रष्टाचार और वादाखिलाफी की नियत को समझ चुका है, 15000 करोड़ रुपए से अधिक का भ्रष्टाचार करने वाली इस कांग्रेस सरकार का इस बार छत्तीसगढ़ से सफाया जरूर होगा।

Tags: ,
कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की बृजमोहन की शिकायत, यह है मामला…
विश्वास खो चुकी भाजपा वादा करने की हालत में भी नहीं : कांग्रेस

ताजा खबर

जीवन शैली

खेल

गैजेट

देश दुनिया

You May Also Like