छत्तीसगढ़

सिम्स के डॉक्टरों ने किया कमाल, सफल ऑपरेशन कर महिला के पेट से निकाला 10 किलो से ज्यादा का ट्यूमर

Views: 180

Share this article

  • जीने की आश छोड़ चुकी महिला को दिया नवजीवन
  • कलेक्टर एवं डीन ने डॉक्टरों की टीम को दी बधाई

बिलासपुर : बिलासपुर में निजी अस्पतालों का चक्कर काट थक हार कर सिम्स पहुंची एक ग्रामीण महिला के पेट का ऑपरेशन कर डॉक्टरों की टीम ने 10 किलोग्राम से ज्यादा वजन का ट्यूमर निकाल उसे जीवनदान दिया है। सिम्स को ऐसा ही कामयाब देखना चाहता है बिलासपुर।

बता दें हमेशा खामियों के लिए चर्चा में रहने वाले सिम्स के इन डॉक्टरों को सलाम करना चाहिए उनका हौसला बढाना चाहिए ताकि अन्य डॉक्टर भी इससे प्रेरित हो और बेहतर चिकित्सा के लिए सिम्स का नाम हो।

चिल्हाटी निवासी 35 वर्षीया लगनी बाई पति हरिशंकर पिछले एक साल से पेट की समस्या से परेशान थी। पेट में सूजन थी जो बढ़ते जा रही थी। प्राइवेट अस्पताल में जांच कराने पर पेट में ट्यूमर होना बताया गया, कई अस्पतालों में दिखाने के बाद भी उसे उचित लाभ नहीं मिला ट्यूमर इतना बढ़ चुका था कि महिला 9 महीने की गर्भवती लग रही थी उसे को सांस लेने में परेशानी एवं अन्य परेशानी बढ़ने लगी।

परिजन थकहार कर उसे सिम्स लेकर पहुचे स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग में भर्ती महिला की जरूरी जाँच के बाद शनिवार को जटिल आपरेशन कर महिला के पेट से 10 किलो वजन का ट्‌यूमर निकाला गया जो उसके अंडाशय में था।

आपरेशन स्त्री एवं प्रसूति रोग विभागाध्यक्ष डॉ संगीता रमन जोगी द्वारा किया गया। उनकी टीम में डॉ. दुर्गा कौशिक, डॉ. सोमा बैंकट कोटा, डॉ. वर्णिका पाण्डेय, डॉ. प्राची तिवारी और एनेस्थेसिया विभाग के विभागाध्यक्ष डॉक्टर राकेश निगम और उनकी टीम स्टाफ नर्स दीपा एवं अन्य ओटी स्टाफ रहा। आपरेशन के बाद महिला सिम्स के स्त्री रोग विभाग में स्वास्थ लाभ ले रही है।

सफल ऑपरेशन कर एक गरीब मरीज को नया जीवनदान देने के लिए कलेक्टर अवनीश शरण और सिम्स के डीन डॉ. केके सहारे ने अधीक्षक डॉ एसके नायक डॉक्टरों, नर्सों और सहयोगी टीम को बधाई दी है।

Tags: ,
नक्सलियों ने इस तारीख को किया बंद का ऐलान, नक्सली प्रवक्ता समता ने जारी किया प्रेसनोट, जानिए क्यों किया गया बंद का आव्हान….
सर्पदंश से महिला की मौत…शादी वाले घर में पसरा मातम

ताजा खबर

जीवन शैली

खेल

गैजेट

देश दुनिया

You May Also Like