छत्तीसगढ़

जल्द लगने वाली है आचार संहिता, सीईओ ने अधिकारियों को किया अलर्ट

Views: 246

Share this article

रायपुर। आसन्न लोकसभा चुनाव की घोषणा जल्द होने वाली है, इस बात का संकेत वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबा साहेब कंगाले ने अधिकारयों को संबोधित करते हुए दिए है। लोकसभा निर्वाचन के लिए सभी रिटर्निंग तथा सहायक रिटर्निंग अधिकारियों को आवश्यक तैयारियाँ जल्द पूरा करने के निर्देश मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबा साहेब कंगाले ने दिए हैं।

उन्होंने कहा कि निर्वाचन की घोषणा के साथ ही आदर्श आचरण संहिता लागू हो जाती है और ऐसे में शासकीय अमला इसे कड़ाई से पालन करने के लिए हर स्तर पर तैयार रहे। वे आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश के रिटर्निंग, सहायक रिटर्निंग एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रही थीं।

कंगाले ने कहा कि सभी जिलों में निर्वाचन की तैयारियों को अब अंतिम रूप देने का समय है। उन्होंने एमसीसी (मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट) लागू होने के बाद पहले 72 घंटों में किए जाने वाले सभी कार्यों की चेकलिस्ट तैयार करने पर जोर दिया। इसके लिए उन्होंने नोडल अधिकारी नियुक्त करने से लेकर विभिन्न समितियों के गठन संबंधी तैयारियाँ पूरी करने के निर्देश दिए।

कंगाले ने अधिकारियों से कहा कि निर्वाचन अधिकारी की विश्वसनीयता और निष्पक्षता ही उसकी योग्यता की कसौटी है। ऐसे में प्रशासन की जिम्मेदारी और बढ़ जाती है। इस अवसर पर उन्होंने भारत निर्वाचन आयोग द्वारा डाक मतपत्र संबंधी नए संशोधन का उल्लेख करते हुए बताया कि अब 85 वर्ष या अधिक आयु के मतदाता को डाक मतपत्र से मतदान की सुविधा प्रदान की जाएगी। पूर्व में यह 80 वर्ष या अधिक उम्र के मतदाता को यह सुविधा प्रदान की गई थी।

इसके अतिरिक्त पहले की तरह दिव्यांग मतदाताओं को डाक मतपत्र से मतदान की सुविधा जारी रहेगी। समीक्षा बैठक के दौरान उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी यू एस अग्रवाल ने नामांकन प्रक्रिया, आदर्श आचरण संहिता, निर्वाचन के दौरान रैली, वाहन, प्रचार सामग्री सहित विभिन्न अनुमतियों जैसे विषयों पर प्रकाश डाला।

इस दौरान उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय अग्रवाल ने मतदाता सूची की तैयारी, डाक मतपत्र, ईटीपीबीएस (इलेक्ट्रानिकली ट्रांस्मीटड पोस्टल बैलेट सिस्टम) , डाक मतदान हेतु सुविधा केन्द्र, सेवा मतदाता, मतदान दलों की तैयारियों जैसे विषयों पर संक्षिप्त प्रस्तुतिकरण दिया। वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर, जिलों के कलेक्टर तथा सहायक रिटर्निंग अधिकारी उपस्थित थे।

छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामण्डलम् की बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय
नया कानून सुशासन का परिचय देने में बेहतरीन साबित होगाः सीएम साय

ताजा खबर

जीवन शैली

खेल

गैजेट

देश दुनिया

You May Also Like