छत्तीसगढ़

अवैध रूप से संचालित कान्हा हॉस्पिटल एवं मयंक मेडिकल स्टोर्स पर प्रशासन ने जड़ा ताला ,!

Views: 109

Share this article

तिल्दा -नेवरा: बच्चों के हास्पीटल में नर्सिंग होम एक्ट के तहत लायसेंस नहीं होने पर प्रशासन ने हांस्पीटल में ताला जड़ दिया है, वहीं कथित हास्पीटल से संबंधित मयंक मेडिकल में एक्सपायरी मेडिसिन का ब्यापक मात्रा में जखीरा बरामद होने पर वहां भी ताला जड़ा गया है । गौरतलब हो कि बीते दो‌ दिन‌ पूर्व तिल्दा -नेवरा नगर में संचालित कान्हा बच्चों के‌ हॉस्पिटल परिसर में संचालित संबंधित मयंक मेडिकल स्टोर्स में एक्सपायरी दवाईयो का वृहद मात्रा में बरामदी का मामला सामने आया था । जानकारी के अनुसार कान्हा बच्चों के हॉस्पिटल के डाक्टर ने डेढ़ वर्षीय शिशु की इलाज हेतु कुछ‌ मेडिसिन लिखा था ,डाक्टर के द्वारा लिखी गई पर्ची के अनुसार संबंधित मयंक मेडिकल स्टोर्स से दवा ली गई ।

जब परिजनो‌ ने मासुम शिशु को दवा पिलाई तो शिशु का तबियत बिगड़ने लगा ।आनन फानन में तिल्दा -नेवरा के शासकीय हॉस्पिटल के डाक्टर से चेक कराया गया ,तब कहीं जाकर एक्सपायरी दवा की पोल खुली । शासकीय स्वास्थ्य केन्द्र के डाक्टर ने मौके पर जाकर मेडिकल स्टोर्स का निरिक्षण किया जहां स्टांक में से आधे‌ से अधिक एक्सपायरी दवाएं बरामद किया गया ।वहीं इसकी जानकारी ड्रग विभाग रायपुर को दिया गया । ड्रंक विभाग के अधिकारियों ने भारी मात्रा में कथित मेडिकल स्टोर्स से एक्सपायरी मेडिसिन जब्ती का कार्यवाही किया और मेडिकल संचालक को स्टोर्स बंद रखने की हिदायत दी गई थी उसके बावजूद हास्पीटल की भीतर दीवार से सटे खिड़की से आदान‌ प्रदान चलता रहा ।

इस मामले का नगरपालिका तिल्दा -नेवरा के उपाध्यक्ष विकास सुखवानी सहित अन्य भाजपाईयो ने कड़ा विरोध किया ।वहीं देखा गया कि पूर्व में संबंधित कान्हा हॉस्पिटल जो अवैध रूप ‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌से संचालित था उसे अनेकों बार नशीहत दी गई थी कि नर्सिंग होम एक्ट के तहत दस्तावेज पूर्ण कर लेवे लेकिन वे हमेशा स्वास्थ्य विभाग के बीएमओम को आश्वस्त करता रहा ।इस मामले पर संबंधित विभाग से पूर्व में आदेश भी जारी किया गया था कि दस्तावेज पूर्ण होते तक हॉस्पिटल बंद रखें ,लेकिन हॉस्पिटल प्रबंधन विभागीय आदेश को नजर अंदाज करता रहा इस मामले की खबर को अखबार व चैनलों मे प्रमुखता से प्रकाशित किया गया था ।

जिसके चलते क्षेत्रवासी के अलावा भाजपाई ने‌ भी नगर पालिका उपाध्यक्ष विकास सुखवानी के नेतृत्व में सड़क पर उतर आये ,वहीं तहसील प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग ने संयुक्त रूप से एक्शन मोड पर आते हुए कान्हा हॉस्पिटल एवं मयंक मेडिकल स्टोर्स पर तालाबंदी की कार्यवाही किया है। इस कार्यवाही से क्षेत्रवासियों में अपेक्षा का एक किरण का उदय हुआ है कि लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने वाले हास्पीटलो एवं मेडिकल स्टोर्स के खिलाफ कड़ी कार्रवाई भविष्य में भी किया जायेगा ,चुंकि माना जा रहा है कि अभी एक छोटी मछली का शिकार हुआ है मगरमच्छो का पर कतरना अभी बाकि है ।

Tags:
‘बस्तर: द नक्सल स्टोरी’ फिल्म की शूटिंग के लिए दंतेवाड़ा पहुचीं एक्ट्रेस अदा शर्मा, मां दंतेश्वरी का लिया आशीर्वाद,इस तारीख को होगी रिलीज
छत्‍तीसगढ़ में लौटी ठंड, उत्तर की ठंडी हवाओं से सात डिग्री तक लुढ़का दिन का तापमान…इन इलाकों हो सकती है बारिश

ताजा खबर

जीवन शैली

खेल

गैजेट

देश दुनिया

You May Also Like