छत्तीसगढ़

अपने ही पति के खून की प्यासी हुई पत्नी, प्रेमी के साथ मिलकर रची साजिश, पति को उतारा मौत के घाट, फिर भी मन नहीं भरा तो किया ये घिनौना काम, ऐसे हुआ मामले का खुलासा

Views: 405

Share this article

रायपुर। राजधानी रायपुर में खारुन नदी में मिली लाश के मामले में पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। पुलिस ने मामले की गुत्थी सुलझा ली है। पुलिस ने मृतक की पत्नी और बॉयफ्रेंड को गिरफ्तार किया गया है। महिला ने ही अपने पति की हत्या करने के लिए बॉयफ्रेंड पर दबाव बनाया था। मर्डर के बाद जब उसे पति की मौत पर यकीन नहीं हुआ, तो उसने लाश देखने की भी जिद की थी। जिस पर आरोपी ने महिला को खारुन नदी में तैरती हुई लाश भी दिखाई।

हत्या का यह मामला रायपुर के पुरानी बस्ती थाना क्षेत्र का है। पुलिस को 10 जून को एक युवक की भाठागांव स्थित केसरी बगीचा के पास नदी में लाश मिली। पुलिस ने लाश की पहचान के लिए उसकी फोटो सभी थानों पर भेजी। दो दिन बाद मृतक की पत्नी मीना यादव अपने परिवार वालों के साथ थाने पहुंची।

मीना यादव ने लाश की पहचान अपने पति विधाता यादव के रूप में की। 30 साल का विधाता यादव सयासीपारा खमतराई में रहता था। इस बीच लाश की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट भी सामने आई। जिसके बाद पुलिस ने हत्या का केस दर्ज किया और आरोपी की तलाश में जुट गई।

ऐसे हुआ मामले का खुलासा

पुलिस ने मृतक की कॉल डिटेल के साथ ही पत्नी मीना यादव की भी कॉल डिटेल खंगाली। जब पत्नी के कॉल डिटेल को पुलिस ने जांचा तो एक शख्स का नंबर सामने आया जिससे मीना यादव बार-बार फोन में बात किया करती थी। ये फोन नंबर मौदाहापारा के रहने वाले अमजद खान का था।

जानकारी के मुताबिक, अमजद का ऑटो किराए पर देने का काम था। मृतक विधाता यादव अमजद से ही किराए पर ऑटो लेकर चलाता था। इसी बीच मीना यादव का अमजद खान के साथ अफेयर हुआ। अमजद ने मीना को डेढ़ साल पहले मोबाइल फोन और सिम भी दिया था।

इस मोबाइल से ही मीना और अमजद के बीच कई बार बातें होती थीं। इस अफेयर की जानकारी विधाता यादव को हुई जिस पर कई बार पति-पत्नी में बहस और लड़ाई भी हुई। बार-बार की लड़ाई से परेशान मीना ने अपने पति को ही रास्ते से हटाने का विचार कर लिया।

मीना इसके बाद बॉयफ्रेंड अमजद खान पर अपने पति की हत्या करने का दबाव डालने लगी। इसके बाद अमजद ने एक और शख्स अन्नू प्रजापति के साथ मिलकर हत्या की प्लानिंग की। अन्नू भी अमजद से किराए पर ऑटो लेकर चलाता था। अन्नू पहले उत्तरप्रदेश में हत्या के प्रयास और छेड़छाड़ के मामले में जेल भी जा चुका है। प्लानिंग के मुताबिक अन्नू और अमजद ने विधाता को शराब पार्टी के लिए बुलाया। तीनों ने भाठागांव के सुनसान केसरी बगीचा के पास बैठकर शराब पी।

शराब पार्टी के बीच आरोपियों ने नशे में चूर हो चुके विधाता के सिर पर लोहे की पटिया से वार कर दिया। उसकी मौके पर मौत हो गई जिसके बाद दोनों ने लाश को नदी पर फेंक दिया। हत्या के दौरान मीना अपने पति विधाता और प्रेमी दोनों को बार-बार फोन करते रही। वह कंफर्म करना चाहती थी कि मर्डर हुआ है या नहीं। अमजद ने बताया कि हत्या हो चुकी है, लेकिन उसे यकीन नहीं हुआ वह लाश देखने की जिद करने लगी।

परेशान होकर अगले दिन अमजद उसे स्कूटी में बैठाकर घटनास्थल पर ले गया। नदी में बहाव कम होने से लाश खारुन नदी के ऊपर तैर रही थी। पति की लाश देखकर वह शांत हुई। पुलिस को इस पूरे हत्याकांड में मोबाइल की कॉल डिटेल, लोकेशन और आसपास मौजूद सीसीटीवी फुटेज से सब कुछ साफ हो गया। मामले में अमजद खान, मीना यादव और अन्नू प्रजापति को हत्या के मामले में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

Tags: ,
पंडित रविशंकर विवि में इसी सत्र से 5 नए कोर्स शुरू होंगे…इस विषय पर पढ़ाई कर सकेंगे छात्र
नवपदस्थ पुलिस अधीक्षक योगेश पटेल द्वारा पुलिस अधीक्षक कार्यालय मे पत्रकार वार्ता कों किया गया सम्बोधित

ताजा खबर

जीवन शैली

खेल

गैजेट

देश दुनिया

You May Also Like