छत्तीसगढ़

कुंए में मिली लाश की गुत्थी सुलझी, भाई ने अपने पिता व मां के साथ मिलकर की बड़े भाई की हत्या, जानें क्या है वजह…!!

Views: 155

Share this article

राजनांदगांव। जिले के घुमका थाना पुलिस के टीम ने कुंए में मिली लाश की गुत्थी सुलझा ली है। मामले में पुलिस ने मृतक के छोटे भाई, मां व पिता को गिरफ्तार किया है। मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि ग्राम बिजेतला के ग्रामीणों के माध्यम से सूचना मिला कि होरी लाल उमरे के खेत में स्थित सूखे कुंए के अंदर बोरे-कपडे में लपेटकर बंधा हुआ अज्ञात व्यक्ति का शव पडा हुआ है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव की शिनाख्ती वेदप्रकाश निर्मलकर उर्फ वेदू 26 वर्ष निवासी ग्राम बिजेतला के रूप में की। पुलिस ने बताया कि मृतक वेदप्रकाश निर्मलकर विगत 3 दिनों से लापता है किन्तु मृतक के गुम होने के संबंध में परिजनों द्वारा किसी प्रकार का सूचना थाना घुमका में नहीं दिया गया है।

साथ ही जांच के दौरान यह सामने आया कि मृतक का उसके छोटे भाई बालमुकुंद निर्मलकर, माता-पिता व छोटी बहन के साथ आये दिन लड़ाई झगडा होता रहता था। पूर्व में वर्ष 2022 में मृतक के द्वारा अपने भाई, मां व बहन के साथ मारपीट किया था जिसकी सूचना पर थाना घुमका में रिपोर्ट दर्ज की गई थी। उक्त आधार पर पुलिस ने मुख्य संदेही बालमुकुंद ऊर्फ पप्पू निर्मलकर 24 वर्ष को हिरासत में लेकर पूछताछ किया। तो उसने बताया कि बचपन से मृतक बड़े भाई वेदप्रकाश निर्मलकर के द्वारा उससे मारपीट करता था, शराब पीकर आये दिन घर में अपने माता-पिता व छोटी बहन को भी मारता पीटता था, उसकी हरकतों से घर के सभी परिजन परेशान थे।

वर्ष 2022 में भी मृतक के द्वारा अपने भाई, मां, बहन को जान से मारने की धमकी देकर मारपीट किया था जिसके कारण मृतक की मां व छोटी बहन घर से भाग गये थे। उसी रंजीश के कारण मृतक के छोटे भाई पिता व माता ने उसकी हत्या करने की योजना बनाई थी। योजना के तहत 15 मई के रात्रि जब मृतक अपने कमरे में सो रहा था तब आरोपी बालमुकुंद द्वारा घर में रखे टंगिया से मृतक के सिर व गर्दन में 4 से 5 बार लगातार वार कर हत्या कर दिया था तथा मृतक के शव को आरोपी भाई व पिता के द्वारा जूट की बोरियों में भरकर शव को छिपाने के लिए घर से उठाकर उस रात में ही गांव के ही होरी लाल उमरे के खेत में स्थित कुएं में फेक दिये थे।

घटना के बाद घटना स्थल में मौजूद खून धब्बो को मिटाने के उद्देश्य से आरोपी माता द्वारा लिपाई पोताई कर दिया गया था। साथ ही घटना के दौरान खुन धब्बा लगा हुआ पलंग के नेवार व आरोपियों के द्वारा पहने कपडों को आरोपी बालमुकुंद व पिता मनहरण द्वारा ले जाकर गांव के एक मैदान में जला दिया गया था। पुलिस ने मामले में आरोपी बालमुकुंद उर्फ पप्पू निर्मलकर 24 वर्ष, पिता मनहरण निर्मलकर 53 वर्ष व मां मीना बाई निर्मलकर 50 वर्ष को गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त लोहे का टंगिया व खुन धब्बा लगा हुआ पलंग का पाटा, खूरा आदि को बरामद कर लिया है।

Tags: , ,
CG – चार अस्पतालों को नोटिस जारी, इस वजह से हुई बड़ी कार्रवाई…जानिए क्या है पूरा मामला….
शादी का झांसा देकर जबरन दुष्कर्म के मामले मे आरोपी कों चंद घंटे मे किया गया गिरफ्तार

ताजा खबर

जीवन शैली

खेल

गैजेट

देश दुनिया

You May Also Like