छत्तीसगढ़

बोर्ड परीक्षा की प्रावीण्य सूची में स्थान बनाने वाले 12 विद्यार्थियों का सम्मान

Views: 133

Share this article

बालोद। जिला प्रशासन ने 09 मई को छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा जारी किए गए हाई स्कूल एवं हायर सेकण्डरी परीक्षा के परिणामों के अंतर्गत राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में स्थान बनाने वाले बालोद जिले के कुल 12 विद्यार्थियों का सम्मान किया। संयुक्त जिला कार्यालय सभाकक्ष में आज आयोजित सम्मान समारोह में कलेक्टर इन्द्रजीत सिंह चन्द्रवाल, शिक्षा विभाग के नोडल अधिकारी एवं डिप्टी कलेक्टर प्राची ठाकुर एवं जिला शिक्षा अधिकारी पीसी मरकले एवं अन्य अधिकारियों ने राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में स्थान अर्जित करने वाले जिले के सभी 12 बच्चों का सम्मान किया गया। इस अवसर पर अधिकारियों के द्वारा राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में स्थान बनाने वाले जिले के सभी 12 विद्यार्थियों को पुष्प गुच्छ एवं स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया गया।

उल्लेखनीय है कि 9 मई का दिन जिले के स्कूूली विद्यार्थियों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण दिन रहा। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा जारी किए गए परीक्षा परिणाम के अंतर्गत कक्षा 12वीं के 01 एवं कक्षा 10वीं के 11 सहित जिले के कुल 12 विद्यार्थियों ने इतनी बड़ी संख्या में महत्वपूर्ण उलपब्धि हासिल की है। कलेक्टर इन्द्रजीत सिंह चन्द्रवाल पहली बार इतनी बड़ी संख्या में जिले के विद्यार्थियों के टाॅप टेन में स्थान अर्जित करने पर बहुत ही अभिभूत नजर आ रहे थे। उन्होंने जिले के विद्यार्थियों के इस महत्वपूर्ण उपलब्धि की मुक्तकंठ से सराहना करते हुए मेधावी विद्यार्थियों के अलावा उनके शिक्षक माता, पिता एवं सभी विभागीय अधिकारी-कर्मचारियों केे प्रयासों की भूरी-भूरी प्रशंसा की। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा जारी किए गए परीक्षा परिणामों के अंतर्गत जिले के शासकीय स्कूलों का प्रदर्शन बहुत ही बेहतर रहा। राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में स्थान अर्जित करने वाले जिले के कुल 12 मेधावी विद्यार्थियों में से 10 छात्र-छात्राएं जिले के शासकीय विद्यालयों के विद्यार्थी है। खास बात यह है कि राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में स्थान अर्जित करने वाले जिले के अनेक विद्यार्थी अपने खराब आर्थिक स्थिति एवं विपरीत परिस्थितियों के बावजूद भी अपने मेहनत, लगन एवं साधना के बदौलत परिस्थिति को मात देते हुए आज यह उपलब्धि हासिल की है। हाई स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा के अंतर्गत 98 प्रतिशत अंक अर्जित कर राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में 5वां स्थान हासिल करने वाली जिले के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय फागुनदाह की मेधावी विद्यार्थी कुमारी पद्मनी शांडिल्य ने बताया कि उनके पिता का देहांत हो गया है। मेरी माता स्कूल में रसोईए का कार्य तथा मेहनत मजदूरी करते हुए मुझे पढ़ा रही हैं। उन्होेंने कहा कि घर की खराब आर्थिक स्थिति के कारण पढ़ाई-लिखाई के कार्य में उनके सामने अनेक बाधाएं उपस्थित होती है। लेकिन उन्होंने जीवन में कुछ करने की चाहत एवं विद्या अध्ययन करने की तीव्र लालसा के कारण कठिनाईयों का सामना करते हुए निरंतर पढ़ाई-लिखाई कर रही है। इसी तरह हाई स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा के अंतर्गत 98 प्रतिशत अंक अर्जित कर राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में 5वां स्थान हासिल करने वाली जिले के एक और होनहार छात्रा कुमारी जिज्ञासा ने बताया कि उनके माता-पिता खेती किसानी कर जीवन यापन करते हैं। उन्होंने बताया कि घर की आर्थिक स्थिति ठीक नही होने के कारण पढ़ाई-लिखाई के दौरान बहुत सारे परेशानियां उपस्थित होती है। लेकिन उनके मन में पढ़ाई-लिखाई के प्रति असीम जिजीविषा है। जिसके बदौलत उन्होंने आज यह उपलब्धि हासिल की है। इसी तरह हायर सेकण्डरी सर्टिफिकेट परीक्षा में 96 प्रतिशत अंक अर्जित कर राज्य सूची की प्राविण्य सूची में 5वां स्थान हासिल करने वाली स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट हिन्दी माध्यम विद्यालय झलमला की विद्यार्थी कुमारी हर्षवती ने बताया कि उनके माता पिता किसान है। वे अपने माता पिता के साथ घरेलु कार्यों में सहयोग करते हुए आज यह उपलब्धि हासिल की है। कलेक्टर चन्द्रवाल ने विपरीत परिस्थितियों के बावजूद भी जिले के इन होनहार एवं प्रतिभाशाली विद्यार्थियों के महत्वपूर्ण उपलब्धि की सराहना की है। उन्होंने इन विद्यार्थियों एवं इनके माता पिता को हर संभव मदद उपलब्ध कराने का आश्वासन भी दिया। इसके लिए उन्होंने मौके पर उपस्थित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए।

कलेक्टर ने कहा कि कक्षा 10वीं एवं 12वीं की बोर्ड परीक्षा में जिले के विद्यार्थियों का बड़ी संख्या में राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में स्थान अर्जित होना निश्चित रूप से पूरे जिलेवासियों के लिए गर्व एवं सौभाग्य विषय है। उन्होंने कहा कि इसका श्रेय विद्यार्थियों की कड़ी मेहनत एवं लगन के अलावा उनके माता, पिता, शिक्षक, स्कूल प्रबंधन एवं शिक्षा विभाग के सभी अधिकारी-कर्मचारियों को जाता है। इस अवसर पर कलेक्टर ने कल जारी किए गए परीक्षा परिणामों के अंतर्गत जिले के शासकीय स्कूलों के बेहतरीन परीक्षा परिणामों की भी सराहना की। कलेक्टर ने कहा कि राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में स्थान अर्जित करने वाले जिले के 12 विद्यार्थियों में से 10 विद्यार्थी शासकीय स्कूलों के विद्यार्थी है। जो कि हम सभी के लिए सौभाग्य का विषय है। उन्होंने कहा कि शासकीय स्कूलों में भी विद्यार्थियों को अध्ययन-अध्यापन की अनुकूल सुविधा एवं परिवेश उपलब्ध कराई जाए तो शासकीय स्कूलों के विद्यार्थी भी सफलता का परचम लहरा सकते हैं। चन्द्रवाल ने कहा कि हमारे जिले में विद्यार्थियों के सफलता का रथ निरंतर आगे बढ़ते रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि आने वाले वर्षों में राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में स्थान अर्जित करने वाले जिले के विद्यार्थियों की संख्या दुगुनी होनी चाहिए। इस अवसर पर उन्होंने जिले के सभी मेधावी विद्यार्थियों, उनके माता-पिता, परिजनों तथा शिक्षक-शिक्षिकाओं को बच्चों की सफलता के लिए हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए विद्यार्थियों की उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

इस अवसर पर कलेक्टर ने राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में स्थान अर्जित करने वाले जिले के सभी 12 मेधावी विद्यार्थियों से बारी-बारी से चर्चा कर उन्हें उस महत्वपूर्ण उपलब्धि को हासिल करने उनके द्वारा निर्धारित रणनीति तथा उनके द्वारा निर्धारित लक्ष्य आदि के संबंध में जानकारी ली। सभी विद्यार्थियों ने बारी-बारी से पढ़ाई-लिखाई के तरीके एवं निर्धारित लक्ष्य के संबंध में जानकारी ली। इस दौरान कक्षा 10वीं में प्राविण्य सूची में स्थान बनाने वाले विद्यार्थी राहुल गंजीर ने आगे गणित की पढ़ाई कर इंजीनियर बनने तथा लुकेश्वर राजपूत ने यूपीएससी की परीक्षा पास करने, पोषण कुमार ने डाॅक्टर बनने, कुमारी खुशी टुवानी ने डेटा साईंटिस्ट बनने, कुमारी हेमप्रज्ञा साहू ने मर्चेंट नेवी का इंजीनियर बनने तथा रितिका देवांगन ने डाॅक्टर बनकर देश व समाज की सेवा करने की बात कही। इस दौरान डिप्टी कलेक्टर एवं शिक्षा विभाग की नोडल अधिकारी प्राची ठाकुर ने जिले के विद्यार्थियों की इस महत्वपूर्ण उपलब्धि की सराहना करते हुए उन्हंे बधाई एवं शुभकामनाएं दी। जिला शिक्षा अधिकारी पीसी मरकले ने छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा जारी किए गए नतीजों के अंतर्गत जिले के कक्षा 10वीं एवं 12वीं के परीक्षा परिणामों के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उल्लेखनीय है कि आज आयोजित सम्मान समारोह में राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में स्थान अर्जित करने वाले कक्षा 12वीं की छात्रा कुमारी हर्षवति के अलावा कक्षा 10वीं के छात्र-छात्राएं राहुल गंजीर, डाली साहू, कुमारी पद्मनी शांडिल्य, कुमारी जिज्ञासा, लुकेश कुमार राजपूत, बबीता साहू, तोषण कुमार, खोमेन्द, कुमारी खुशी टुवानी, कुमारी हेमप्रज्ञा साहू तथा रितीक देवांगन का सम्मान किया गया। इस अवसर पर जिला प्रशासन द्वारा राज्य स्तरीय प्राविण्य सूची में स्थान अर्जित करने वाले जिले के सभी 12 बच्चों को भोजन कराने के उपरांत तांदुला रिसार्ट में बोटिंग भी कराया गया। इस दौरान सभी विद्यार्थी बहुत ही प्रसन्नचित नजर आ रहे थे। मेधावी विद्यार्थियों के सम्मान समारोह के अवसर पर जिले के सभी 12 मेधावी विद्यार्थियों के अलावा उनके शिक्षक, शिक्षिका, प्राचार्य एवं अन्य अधिकारियों के अलावा विद्यार्थियों के परिजन उपस्थित थे।

Tags:
नौकरी लगाने का झांसा देकर ठगी करने मामले में 02 आरोपी गिरफ्तार
बोर्ड परीक्षा की प्रावीण्य सूची में स्थान बनाने वाले 12 विद्यार्थियों का सम्मान

ताजा खबर

जीवन शैली

खेल

गैजेट

देश दुनिया

You May Also Like