छत्तीसगढ़

भाजपा नेताओं ने परिवर्तन यात्रा में भरी हुंकार, कहा- कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने का आ गया वक्त…

Views: 26

Share this article

दंतेवाड़ा। भारतीय जनता पार्टी की परिवर्तन यात्रा की दंतेवाड़ा से मंगलवार को शुरुआत हुई. इस दौरान आयोजित आमसभा में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि इस भ्रष्ट और निकम्मी भूपेश सरकार को उखाड़ फेंकने का वक्त का चुका है. जो गरीबों के 600 करोड़ का चावल खा जाती है. गौठान के नाम पर 1300 करोड़ का भ्रष्टाचार करती है, उस सरकार को बदलने का वक्त आ चुका है.

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आम सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आपके साथ मिलकर बस्तर के सपने को मिलकर साकार करने काम किया था. बस्तर के कुछ मुद्दे थे. नमक बस्तर के स्वाभिमान से जुड़ा विषय है. बस्तर के आदिवासियों को चिरौंजी, गोंद के बदले नमक दिया करते थे, लेकिन हमारी सरकार ने निशुल्क नमक देकर बस्तर के लोगों के स्वाभिमान की बात कही थी. भाजपा सरकार ने गरीबों को एक रुपए किलो चावल दिया. चरण पादुका योजना का जिक्र करते हुए कहा कि भूपेश बघेल ने योजना बंद कर दिया. किसानों को 16 प्रतिशत की दर से 9 प्रतिशत, छह प्रतिशत और बिना ब्याज से सहकारी बैंक से कर्ज देने की शुरुआत भाजपा सरकार ने की.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव ने कहा कि पिछले पौने पांच साल से भूपेश बघेल की सरकार चल रही है, यह झूठ की सरकार, लबरा सरकार, छत्तीसगढ़ को लूटने वाली सरकार चल रही है. बड़े-बड़े वादे कर सरकार में आए थे, लेकिन एक भी वादा पूरा नहीं किया. अब फिर से वादा कर रहे हैं. यह बस्तर की जनता ऐसे धोखा देने वालों की सरकार को उतारना भी जानती है. आज बस्तर का विकास ठप हो गया है. बस्तर के लोगों को केवल लूटने का काम कर रहे हैं. बस्तर में टारगेट किलिंग हो रही है, बस्तर की बदहाली हो रही है. बस्तर के लोगों के साथ धोखा और छल करने का काम भूपेश सरकार कर रही है. बस्तर केरल से बड़ा एक जिला हुआ करता था, जिसे सात जिले में बदलने का काम भाजपा सरकार ने किया.

नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल ने कहा कि जिस छत्तीसगढ़ को डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में संवारा, आज उस छत्तीसगढ़ का दुर्भाग्य है कि भूपेश बघेल जैसे लबरा मुख्यमंत्री बन गए. जो आदिवासियों का शोषण कर रहे हैं. आज भूपेश बघेल, दीपक बैज, कवासी लखमा, कांग्रेस के विधायक और नेताओं को दंतेवाड़ा की जमीन से चुनौती देने आए हैं कि टारगेट किलिंग कर भाजपा कार्यकर्ताओं को मारा जा रहा है. यह भूपेश बघेल के संरक्षण में हो रहा है, और कवासी लखमा और दीपक बैज, यहां के सभी विधायक सब उसमें संलग्न हैं. यह परिवर्तन रथ आने वाले समय में विधानसभा चुनाव में कमल को खिलाकर रायपुर के मंत्रालय में भाजपा का मुख्यमंत्री बनाकर रुकेगा.

रायपुर दक्षिण के विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने जनसुमदाय को संबोधित करते हुए कहा कि आदिवासियों की हत्या करने वाली, आदिवासी माताओं-बहनों की इज्जत को सुरक्षित नहीं रखने वाली, तेंदूपत्ता में भ्रष्टाचार करने वाली और बस्तर के नौजवानों को रोजगार नहीं देने वाली सरकार को हटाने के लिए परिवर्तन यात्रा निकाली जा रही है. उन्होंने कहा कि दंतेवाड़ा में एक नहीं पांच-पांच विधायक है. कवासी लखमा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि एक विधायक है कोंटा का, जो विधानसभा में जवाब नहीं देता, जब विधानसभा में खड़ा करते हैं तो बोलते है कि यह जवाब नहीं दे पाएंगे. लेकिन पेपर में बहुत बोलता है, भाषण में बहुत बोलता है. आपको बस्तर को विकास चाहिए या विनाश चाहिए यह तय करना है.

भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सरोज पांडेय ने अपने संबोधन में कहा कि सत्ता में आने से पहले कांग्रेस ने 36 वादे किए, तो आज पूछिए तो कि कितने वादे पूरे तो बड़ा सा शून्य दिखाई देता है. यह झूठी सरकार है, और जब इस सरकार को जब पांच साल बाद जनता के बीच जाना पड़ता है तो यह सरकार भरोसे का सम्मेलन करती है. पहले सब जगह लिखा रहता था कि भूपेश है तो भरोसा है, और यह कहने वाली भूपेश सरकार पर कांग्रेस को भी भरोसा नहीं है, क्योंकि जहां भूपेश लिखा गया था, आज वहां कांग्रेस लिखा जा रहा है.

केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह ने अपने संबोधन में पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव पर निशाना साधते हुए कहा कि वे पंचायतों के काम को अधूरा छोड़ा क्योंकि पंचायतों को कुछ नहीं दे सकते थे. पूर्व मंत्री और भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष लता उसेंडी ने सभा को स्थानीय भाषा में संबोधित करते हुए कहा कि ठगने वाली, छल करने वाली कांग्रेस को सबक सिखाना है.

परिवर्तन यात्रा में छत्तीसगढ़ भाजपा प्रभारी ओम माथुर, सह प्रभारी नितिन नबीन, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के अलावा भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सरोज पांडेय, सांसद संतोष पांडेय, नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव, पूर्व मंत्री केदार कश्यप, केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष एसटी मोर्चा दिनेश कश्यप, पूर्व मंत्री महेश गागड़ा के साथ अन्य पदाधिकारी मौजूद थे.

दंतेश्वरी मंदिर से हुई यात्रा की शुरुआत

बता दें कि भाजपा की पहली परिवर्तन यात्रा का आज दंतेवाड़ा से आगाज हुआ. गृह मंत्री अमित शाह की अनुपस्थिति में पार्टी पदाधिकारियों ने दंतेवाड़ा स्थित दंतेश्वरी माता मंदिर के दर्शन-पूजन किया. इसके बाद दंतेवाड़ा में आमसभा का आयोजन किया गया, जिसमें भाजपा नेताओं ने जनसमुदाय को संबोधित किया. नेताओं के संबोधन के बाद छत्तीसगढ़ भाजपा प्रभारी ओम माथुर ने परिवर्तन रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.

यात्रा का पहला पड़ाव गीदम होगा, जहां से बस्तानार (किलेपाल) से होते हुए तोकापाल पहुंचेगी जहां आमसभा का आयोजित किया जाएया. इसके बाद यात्रा शाम करीबन 6 बद जगदलपुर पहुंचेगी, जहां स्वागत और रोड शो के बाद आमसभा का आयोजन किया जाएगा.

7 ADSP का ट्रांसफर, अभिषेक माहेश्वरी का बिलासपुर तबादला, देखें सूची
चांद और सूरज के बाद अब समुद्रयान की तैयारी, भारत एक और सफलता के करीब

ताजा खबर

जीवन शैली

खेल

गैजेट

देश दुनिया

You May Also Like