नयी दिल्ली। भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के नेतृत्व में ऋणदाताओं का एक गठजोड़ घाटे में चल रही विमानन कंपनी एयर इंडिया के सुचारू परिचालन के लिए टाटा समूह को ऋण प्रदान करने पर सहमत हो गया है। टाटा समूह ने पिछले साल अक्टूबर में एयर इंडिया एक्सप्रेस के साथ एयर इंडिया और एआईएसएटीएस में 50 प्रतिशत हिस्सेदारी हासिल करने के लिए बोली जीती थी। समूह ने आज विमानन कंपनी का औपचारिक रूप से अधिग्रहण पूरा कर लिया। सूत्रों ने बताया कि एसबीआई के नेतृत्व वाला गठजोड़ एयर इंडिया की आवश्यकताओं के अनुसार मियादी और कार्यशील पूंजी ऋण दोनों देने पर सहमत हो गया है। सूत्रों के अनुसार पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया सहित सभी बड़े ऋणदाता इस गठजोड़ का हिस्सा हैं। वही बैंकों का कहना है कि टैलेस को निश्चित अवधि के लिए ऋण से एयर इंडिया की उच्च लागत वाली उधारी को समाप्त करने में मदद मिलेगी। हालांकि, बैंकों द्वारा दिए जाने वाले ऋण की राशि का फिलहाल पता नहीं चला है। गौरतलब है कि टाटा समूह की होल्डिंग कंपनी टैलेस प्राइवेट लिमिटेड ने आठ अक्टूबर, 2021 को कर्ज में डूबी एयर इंडिया के अधिग्रहण की 18,000 करोड़ रुपये में बोली जीती थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here