केएल राहुल के लिए कप्तानी का आगाज काफी खराब रहा है. केपटाउन में तीसरे मुकाबले में हार के साथ भारत का वनडे सीरीज में सूपड़ा साफ हो गया. मुकाबले में हार के साथ ही केएल राहुल ने एक शर्मनाक रिकॉर्ड बना दिया, जो आज तक किसी भारतीय कप्तान ने नहीं बनाया था.

केएल राहुल बतौर वनडे कप्तान शुरुआती तीन मुकाबले हारने वाले पहले भारतीय बन गए हैं. इससे पहले वह शुरुआती दो वनडे मुकाबले हारकर अजित वाडेकर, दिलीप वेंगसरकर, कृष्णमाचारी श्रीकांत और मोहम्मद अजहरुद्दीन की बराबरी पर थे. लेकिन केपटाउन मुकाबला गंवाने के बाद वह इन चारों से एक कदम आगे निकल गए हैं.

अब वनडे सीरीज मे सफाया होने के बाद केएल राहुल ने बड़ी बात कही है. राहुल ने कहा कि उनकी टीम ने टुकड़ों में अच्छा क्रिकेट खेला. एक टीम के तौर पर वह लंबे समय तक दबाव नहीं बना सकी.

राहुल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘दीपक ने हमें गेम जीतने का असली मौका दिया. काफी रोमांचक मुकाबला था, लेकिन निराश हैं कि हम हारने वाले पक्ष रहे. हमने खुद को एक वास्तविक मौका दिया, कुछ ऐसा जिससे हम सीख सकते हैं और बेहतर हो सकते हैं. बिल्कुल स्पष्ट है कि हम कहां चूक गए, मैं इससे मैं भाग नहीं रहा हूं. कई मौकों पर हमारा शॉट चयन खराब रहा है.’

राहुल ने आगे बताया, ‘गेंद से भी हम लगातार सही एरिया में हिट नहीं कर रहे हैं. हमने टुकड़ों में अच्छा खेला है, लेकिन लंबे समय तक दबाव नहीं बना सके. जुनून और प्रयासों के लिए खिलाड़ियों को दोष नहीं दे सकते. स्किल और स्थिति को समझने के मामले में कभी-कभी हम गलत हो जाते हैं. लेकिन ऐसा होना स्वाभाविक है क्योंकि हमारी टीम में कुछ प्लेयर्स नए हैं.’

राहुल ने कहा, ‘वनडे सीरीज में हम कई बार एक ही तरह की गलतियां की हैं. यह विश्व कप के लिए हमारे सफर की शुरुआत है. हम वापस जाने के बाद खिलाड़ियों से कुछ कठिन बातचीत कर सकते हैं. साउथ अफ्रीका में बहुत अच्छा समय बीता है और वास्तव में अच्छी तरह से हमारा ख्याल रखा गया है. हमने काफी संघर्ष दिखाया है.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here