8.9 C
New York
Sunday, September 26, 2021
Home देश दिल्ली BIG NEWS : राजधानी में इस बार भी नहीं फूटेंगे पटाखे, सरकार...

BIG NEWS : राजधानी में इस बार भी नहीं फूटेंगे पटाखे, सरकार ने भंडारण और बिक्री पर लगाई रोक, बताई यह वजह

नई दिल्ली। सरकार ने राजधानी में सर्दियों के मौसम में बढ़ते प्रदूषण पर काबू करने के उपायों के तहत इस बार भी इस बार भी दिवाली पर हर तरह के पटाखों के भंडारण, बिक्री एवं उपयोग पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। दिल्ली में हर साल दीपावली के दौरान प्रदूषण खतरनाक स्तर तक पहुंच जाता है।मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बुधवार को ट्वीट कर बताया कि पिछले 3 साल से दिवाली के समय दिल्ली के प्रदूषण की खतरनाक स्थिति को देखते हुए पिछले साल की तरह इस बार भी हर प्रकार के पटाखों के भंडारण, बिक्री एवं उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जा रहा है, जिससे लोगों की जिंदगी बचाई जा सके।दूसरे ट्वीट में केजरीवाल ने कहा कि पिछले साल व्यापारियों द्वारा पटाखों के भंडारण के पश्चात प्रदूषण की गंभीरता को देखत हुए देर से पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया था जिससे व्यापारियों को काफी नुकसान हुआ था। सभी व्यापारियों से अपील है कि इस बार पूर्ण प्रतिबंध को देखते हुए किसी भी तरह के पटाखों का भंडारण न करें।दिल्ली प्रदूषण : केजरीवाल ने केंद्रीय पर्यावरण मंत्री से चर्चा के लिए मांगा समय

वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने राजधानी में प्रदूषण पर काबू करने के उपायों पर चर्चा करने के लिए मंगलवार को केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव से मुलाकात का समय मांगा। इस संबंध में दिल्ली के पर्यावरण मंत्री के सचिव ने केंद्रीय मंत्री के निजी सचिव को एक पत्र लिखा है।केजरीवाल ने सोमवार को कहा था कि वह पूसा बायो-डीकम्पोजर की ऑडिट रिपोर्ट के साथ केंद्रीय पर्यावरण मंत्री से मुलाकात करेंगे और उनसे किसानों के बीच इसे मुफ्त वितरित करने के लिए दिल्ली के आसपास के राज्यों को निर्देश देने का आग्रह करेंगे। बायो-डीकम्पोजर एक प्रकार का तरल पदार्थ है जो 15-20 दिनों में पराली को खाद में बदल सकता है। उन्होंने कहा था कि एक केंद्रीय एजेंसी द्वारा कराए गए ऑडिट में पूसा बायो-डीकम्पोजर का उपयोग काफी प्रभावी पाया गया है। दिल्ली सरकार ने पिछले साल यहां भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के वैज्ञानिकों द्वारा तैयार तरल पदार्थ का प्रयोग किया था।पूर्व केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने पिछले साल कहा था कि पूसा बायो-डीकम्पोजर का पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में उपयोग किया जाएगा और अगर यह तकनीक सफल होती है तो और क्षेत्रों में इसका विस्तार किया जाएगा।किसानों का कहना है कि धान की कटाई और गेहूं की बुवाई के बीच 10-15 दिनों का छोटा सा अंतराल होता है और वे पराली जलाते हैं क्योंकि यह पुआल के प्रबंधन तथा अगली फसल के लिए खेत को तैयार करने का किफायती और समय बचाने वाला तरीका है।इसके साथ ही दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने मंगलवार को कहा कि सरकार ने विभिन्न संबंधित विभागों को 21 सितंबर तक अपनी कार्य योजना तैयार करने को कहा है और उनके आधार पर राजधानी में वायु प्रदूषण से निपटने के लिए “विंटर एक्शन प्लान” बनाया जाएगा।

RELATED ARTICLES

, आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई…8900 कैरेट के बेहिसाबी हीरों का चला पता…छापेमारी के दौरान 1.95 करोड़ रुपए नगदी और आभूषण जप्त

नई दिल्ली।  आयकर विभाग ने गुजरात के एक प्रमुख हीरा कारोबारी के यहां छापेमारी कर न सिर्फ 10.98 करोड़ रुपये मूल्य के 8900...

WhatsApp पर जल्द आ रहे हैं ये 5 दमदार फीचर, बदल जाएगा चैटिंग का अंदाज…प्राइवेसी के साथ यूजर्स को मिलेगा नया डिजाइन, जाने इसके...

नई दिल्ली : फेसबुक की स्वामित्व वाली कंपनी WhatsApp पर जल्द ही नए फीचर्स देखने को मिलेंगे। WhatsApp हमेशा से ही अपने प्लेटफॉर्म को अपडेट...

Deendayal Upadhyay Birth Anniversary : दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर PM मोदी समेत इन दिग्गज नेताओं ने किया याद

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें सत्र को संबोधित करेंगे। इस दौरान वो कोरोना...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Aaj Ka Panchang: पंचांग 26 सितंबर 2021, जानें शुभ मुहूर्त, राहु काल और ग्रह-नक्षत्र की चाल

पंचांग 26 सितम्बर 2021, रविवार विक्रम संवत - 2078, आनन्दशक सम्वत - 1943, प्लवपूर्णिमांत - आश्विनअमांत - भाद्रपद हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, आश्विन कृष्ण पक्ष...

, आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई…8900 कैरेट के बेहिसाबी हीरों का चला पता…छापेमारी के दौरान 1.95 करोड़ रुपए नगदी और आभूषण जप्त

नई दिल्ली।  आयकर विभाग ने गुजरात के एक प्रमुख हीरा कारोबारी के यहां छापेमारी कर न सिर्फ 10.98 करोड़ रुपये मूल्य के 8900...

बड़ी खबर – छत्तीसगढ़ में शिक्षक भर्ती मामला, 2300 शिक्षकों की नियुक्ति का रास्ता साफ, हाइकोर्ट ने हटाई रोक

बिलासपुर – शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर दायर याचिका के मामले में चयनित प्रतियोगियों की हस्तक्षेप याचिका पर हाईकोर्ट में आज शुक्रवार...

रमन सिंह और संबित पात्रा को टूलकिट मामले में क्लीन चिट नही, अदालत का नाम लेकर बोला जा रहा झूठ – शैलेश नितिन

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस संचार प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने भाजपा को चुनौती दी है कि वे माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेश को सार्वजनिक...

Recent Comments

error: Content is protected !!