SAD NEWS : पूजा का फूल विसर्जित करने… नहर गए दो सगे भाई… अब कभी नहीं लौट पाएंगे

0
76

बीकानेरl के लूणकरनसर में मंगलवार सुबह दो सगे भाई नहर में डूब गए। एक भाई का शव मिल गया है, जबकि दूसरे की तलाश की जा रही है। हादसा कस्बे के पास उदेशिया गांव का है। यहां से इंदिरा गांधी नहर की कंवरसेन लिफ्ट नहर निकली है। मौके पर पुलिस व प्रशासन के अधिकारी पहुंचे हैं।

दोनों भाई उदेशिया गांव के रहने वाले थे। मंगलवार को घर में गणेश पूजन किया। इसके बाद पूजा के दौरान उपयोग में लिए गए फूलों को विसर्जित करने दोनों भाई मुकेश और जीतू नहर में पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि फूल विसर्जित करने के दौरान जीतू नहर में कुछ आगे बढ़ गया। अचानक नहर के तेज बहाव में बहने लगा। वह चिल्लाया तो बाहर खड़ा भाई मुकेश उसे बचाने के लिए नहर में कूद गया। दोनों भाइयों को तैरना नहीं आता था। ऐसे में नहर के तेज बहाव में बहते आगे चले गए।

घटना का पता तब चला जब लोगों को नहर किनारे उनका सामान पड़ा दिया। इसके बाद गांव में परिजनों को सूचना दी गई। घटना के तुरंत बाद पुलिस मौके पर पहुंची। स्थानीय गोताखोरों को बुलाया गया। नहर में सर्चिंग के दौरान अब तक एक भाई का शव मिला है। जबकि दूसरे की तलाश जारी है।

मौके पर बुरा हाल है तीसरे भाई का
खींयाराम रैगर के दो बेटे तो नहर में डूब गए हैं। तीसरा बेटा भी नहर किनारे खड़ा है। उसकी आंखें नहर से हट ही नहीं रही है। वो अपने दोनों भाईयों को ढूंढ रहा है। हर कोई उसे दिलासा देने की कोशिश कर रहा है लेकिन थोड़ी थोड़ी देर में उसका रो-रोकर बुरा हाल हो रहा है। उसी ने बताया कि वो फूल विसर्जित करने के लिए यहां आए थे।