पिता ने हाथ-पैर बांधकर पुत्र को किया आग के हवाले, अपराध दर्ज

0
94

सरगुजा समय। अम्बिकापुर। दरिमा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम जयपुर में एक युवक को उसके पिता के द्वारा हाथ-पैर बांधकर पैरा में आग लगा दी। घटना की जानकारी ग्राम पुटा गोड़पारा निवासी मामा इताराम ने दरिमा थाना पुलिस को दी है। युवक को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
श्रीगढ अंबिकापुर में किराए के मकान में रहकर मजदूरी करने वाले इताराम ने पुलिस को बताया कि उसका भांजा विकास सिंह जयपुर से 13 जनवरी को आया था, दूसरे दिन रिश्तेदार, जीजा जगत राम और गांव के भईरा श्रीगढ़ आए थे, जो विकास को अपने साथ घर ले गए। दो-तीन दिन जब वह अपने घर पुटा गया तो विकास सिंह उसके घर में था, उसका हाथ, पैर, पेट जला हुआ था। पूछने पर उसने बताया कि श्रीगढ से आने के बाद शुक्रवार, 15 जनवरी को दिन में लगभग 11 बजे पिता जगतराम पहुंचा और हाथ-पैर बांधकर घर के आंगन में हत्या की नीयत से पैरा डाल उसमें आग दिया।

आग से झुलसे विकास सिंह को मेडिकल कालेज अस्पताल लाया गया, जहां उसे भर्ती कर लिया गया है। इताराम ने पुलिस को बताया कि विकास सिंह को उसका पिता जगत राम हमेशा मारता-पीटता था और हत्या करने की नीयत से ही उसे जलाया गया है। युवक को भर्ती कराने के बाद 21 जनवरी को इसकी रिपोर्ट दरिमा थाने में दर्ज कराई गई है, जिस पर पुलिस ने आरोपित के विरुद्ध धारा 307, 342 का मामला दर्ज किया है।