पुलिस अभिरक्षा मौत मामले में अनुराग सिंह देव ने लगाए गंभीर आरोप… बोले- आदिवासी समाज के लोगों को पुलिस कर रही है प्रताड़ित

0
215
सरगुजा समय। अम्बिकापुर। लटोरी सूरजपुर जिले में हुए पुलिस अभिरक्षा में विद्युत विभाग के जूनियर इंजीनियर पूनम कतलम की मौत के मामले में भाजपा छत्तीसगढ़ के प्रवक्ता अनुराग सिंह देव ने छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार पर गंभीर आरोप लगाऐ हैं.. उन्होने प्रेस को जारी अपने बयान में कहा है कि आदिवासी समाज के लोगो को पुलिस द्वारा प्रताड़ित किया जा रहा है.. क्षेत्र में पंकज बेक के बाद यह दूसरी कॉस्टोडीयल डेथ है. उन्होने पुलिस की
जाँच प्रणाली पर सवाल उठाते हुए कहा कि मृतक का पोस्टमार्टम न्यायिक निगरानी में चिकित्सकों की टीम द्वारा वीडियो ग्राफी के साथ किया जाना था तथा इसकी तत्काल सूचना पुलिस अधीक्षक के माध्यम से जिला एवं सत्र न्यायाधीश को भेजी जानी थी एवं न्यायालय द्वारा नियुक्त जज के समक्ष पोस्टमार्टम किया जाना था कुन्तु ऐसा नही किया गया.. पोस्टमार्टम की प्रक्रिया पुलिस एवं प्रसाशन द्वारा स्वयं निपटाया गया जो कि विधिसम्मत नही है..पुलिस द्वारा भी बाद में न्यायालय को सूचना भेजी गई जिससे संदेह पैदा होता है.. उन्होने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस जानकारी दे कि पोस्टमार्टम के दौरान वहां पर सुरजपुर जिले के कौन से प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने गृह विभाग एवं सरकार के कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए कॉस्टोडियल मौतों को सरकारी हत्या करार दिया एवं इसकी भर्तस्ना की साथ ही पीड़ित परिवार की मांग के अनुसार जांच की प्रक्रिया को पारदर्शी करने की मांग की..उन्होने पीड़ित परिवार को तत्काल अनुकंपा नियुक्ति के साथ मुआवजा दिये जाने की भी मांग की.. साथ ही छत्तीसगढ़ में अब तक हुए समस्त कॉस्टोडियल डेथ की जांच केंद्रीय जांच एजेंसी से कराऐ जाने की मांग की हैै।