लगातार बारिश ने छीनी किसानों के चेहरे की मुस्कान, फसल बीमा योजना के तहत भी नही मिल रहा किसानों को लाभ, खेतों में सड़ने लगे फसल….

0
22

बलरामपुर- जिले में इस वर्ष किसानों की मेहनत के कारण धान की काफी अच्छी पैदावार हुई थी और खेतों में धान की फसलें लहलहा रही थीं। लेकिन पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रही बारिश के कारण किसानों के चेहरे की मुस्कान मुरझा गई है। लगातार बारिश के कारण धान की फसल को काफी नुकसान है। धान के खेत में घुटने भर पानी जमा हो गया है। फसलें पूरी तरह खराब होने लगीं है। फसल अभी कटी भी नहीं हैं और बारिश के कारण धान की फसल में जरई आना शुरू हो गया है। जिस वजह से किसान काफी चिंतित हैं। किसानों ने बताया की इस वर्ष उन्हें फसल देखकर काफी संतुष्टि हुई थी। उन्हें उम्मीद थी की इस बार की दिवाली काफी अच्छी मनेगी, लेकिन बारिश ने उनकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया। किसानों ने बताया की धान के फसर के नुकसान की भरपाई उन्हें फसल बीमा से भी नहीं मिलेगा। क्योंकी फसल बीमा के तहत गांव के सभी किसानों का 90 फीसदी फसल खराब होना चाहिए, तब जाकर उन्हें फसल बीमा का लाभ मिलेगा। किसानो को अब सरकार से मदद की उम्मीद है। किसानों ने कहा की उन्होने कर्ज लेकर धान की खेती की थी फसल अच्छी होने से उन्हें डबल मुनाफा होने वाला था। लेकिन बारिश ने सारा खेल बिगाड दिया है। किसानों ने बताया की खेत में पानी भरे होने के कारण वो धान की फसल को काट भी नहीं पा रहे हैं,पानी के कारण धान की फसलें खेतों में सड़ने लगी है।