सरगुजा पुलिस ने चिटफंड कंपनी के डायरेक्टर सहित तीन आरोपी को किया गिरफ्तार

0
239


सरगुजा समय। अंबिकापुर। कोतवाली पुलिस ने चिटफंड कंपनी के डायरेक्टर सहित तीन आरोपियों को रायपुर से गिरफ्तार किया है। तीनों पिछले एक साल से फरार चल रहे थे। कंपनी द्वारा जिले के लोगों को पांच साल में रुपए डबल करने के नाम पर लाखों रुपए की ठगी की गई थी। जून २०१९ में कोतवाली में कंपनी के खिलाफ कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। इसके बाद से सभी फरार चल रहे थे।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शहर के घुटरापारा निवासी शंकर राम यादव पिता जगेशवर राम ने १३ जून २०१९ को कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि रि रिंग रोड नमनाकला स्थित साईं दीप प्रोड्यूसर कंपनी तथा साईं दीप फ्यूचर स्टेट डवलपर्स इंडिया लिमिटेड के संचालक भूपेन्द्र कुमार साहू, रीना साहू, एनआर साहू व अन्य द्वारा लोगों को कंपनी से जोड़कर साढ़े पांच साल में रकम दोगुना करने का झांसा देकर लोगों से लाखों रुपए जमा कराए गए थे। रुपए जमा कराने के बाद उक्त सभी लाखों रुपए ठगी कर अंबिकापुर स्थित कार्यालय बंद कर फरार हो गए। पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच कर रही थी।

इस बीच पुलिस को आरोपियों का रायपुर में होना पता चला। इस पर कोतवाली टीआई भारद्वाज सिंह के नेतृत्व में टीम को गठित कर रायपुर रवाना किया गया। पुलिस टीम ने रायपुर के खरौरा थाना क्षेत्र के ग्राम फरहदा निवासी ३९ वर्षीय भूपेन्द्र कुमार साहू, दिलीप साहू व रायपुर के आंरग थाना निवासी ग्राम बैहार निवासी रोहित कुमार को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा ४२०, ३४ तथा छत्तीसगढ़ निपेक्षकों के संरक्षण अधिनियम की धारा १० के तहत कार्रवाई कर उन्हें जेल भेज दिया है। वहीं अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।
वहीं पूछताछ के दौरान आरोपियों ने पुलिस को बताया कि रुपए दोगुनी करने का झांसा देकर लोगों से लाखों रुपए जमा कराया गया था। उक्त निवेश की रकम से महाराष्ट्र, बालाघाट, मध्यप्रदेश, शेरघाटी बिहार में आरोपियों ने जमीन खरीद ली है।