मंत्री टी एस सिंह देव ने वाड्रफनगर में दुष्कर्म पीडि़ता के परिवार से की मुलाकात, पीड़ित परिवार को तमाम प्रशासनिक सहायता देने का आश्वासन भी दिया…

0
136

बलरामपुर- वाड्रफनगर विकासखंड के लोधी में हुए नाबालिग के साथ बलात्कार के मामले ने संज्ञान लेने प्रदेश के स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री टीएस सिंह देव पीड़ित परिवार से मिलने लोधी ग्राम पहुंचे तमाम प्रशासनिक अम्लों की मौजूदगी में श्री सिंह देव ने पीडीता और उनके परिवार से लगभग 1 घंटे तक मुलाकात की इस दौरान मंत्री ने पीड़ित परिवार को तमाम प्रशासनिक सहायता देने का आश्वासन भी दिया।

पीड़ित परिवार से मुलाकात के बाद मंत्री ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए बताया की वह घटना के बाद से ही परिवार के साथ मोबाइल से संपर्क पर थे और पल.पल की जानकारियां लेते रहते थे इस मुलाकात के दौरान उन्होंने पीड़िता की शिक्षा विवाह का बीड़ा प्रशासन द्वारा उठाए जाने का वादा किया है साथ ही परिवार को 3 एकड़ भूमि वन पट्टे के आधार पर देने की बात भी कही है,स्वास्थ्य मंत्री ने कहा की यह काफी सर्मनाक घटना है और इसमें जागरुकता की जरुरत है।

स्वास्थ्य मंत्री ने ऐसी घटनाओं पर भी प्रहार किया उन्होंने कहा कि नारी और पुरुष एक दूसरे के पूरक हैं और समाज में दोनों का बराबरी का दर्जा है शिव पार्वती राधे कृष्ण और राम सीता जैसे पढ़ाती चरित्रों का उद्धरण देते हुए समाज में सुधार कर नारी का सम्मान करने की बात कही साथ ही समय.समय पर जन जागरूकता अभियान के माध्यम से लोगों को सामाजिक कृतियों से करने के लिए पहल तेज करने आवश्यकता बताई

बहरहाल उक्त मामला में राज सरकार ने संज्ञान तो लिया है और पारिवारिक की स्थिति को सुदृढ़ करने तमाम वादे भी किए हैं इधर मामले में तत्परता दिखाते हुए राज्य शासन ने संबंधित थाना के प्रभारी और वाड्रफनगर के पुलिस अनुविभागीय अधिकारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर अपना पल्ला तो झाड़ लिया है इस बीच बीते 3 दिनों के अंदर बलरामपुर जिले में बलात्कार के 6 और मामले घटित हुए हैं उन पर अभी राज्य शासन ने कोई पहल नहीं की है अब आगे देखना है कि उन छह पीड़ित परिवारों को भी कोई राजकीय सहायता मिलती है या फिर बलात्कार के मामले भी राजनीति का शिकार होकर फाइलों में बंद हो जाएंगे।