बसपा के पूर्व एमएलसी के मकान में पड़ा ईडी का छापा, कई घंटे चली पूछताछ, खुल सकते हैं बड़े राज…

0
26
file photo-ed

सहारनपुर– लखनऊ से बुधवार को ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) की टीम सहारनपुर पहुंची। इसके बाद टीम ने स्थानीय पुलिस को साथ लेकर बसपा के पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल और मुखौटा कंपनियों के निदेशक सौरभ मुकुंद के घर पर छापा मारा।

मुखौटा कंपनियों के जरिये प्रदेश की चीनी मिलें खरीदने के मामले में लखनऊ से सहारनपुर पहुंची ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) की टीम ने बसपा के पूर्व एमएलसी हाजी मोहम्मद इकबाल और मुखौटा कम्पनी के डायरेक्टर सौरभ मुकुंद के घर पर छापा मारा। 

दरअसल, मामले में एसएफआईओ ने जांच की थी और फिर 2017 में लखनऊ के गोमतीनगर थाने में रिपोर्ट दर्ज हुई थी, मुखौटा कंपनियों के जरिये चीनी मिलें खरीदने का आरोप लगा था। अप्रैल 2019 में सीबीआई ने भी अपने थाने में यह मामला दर्ज किया था।

मुखौटा कंपनियों के निदेशक सौरभ मुकुंद के सहारनपुर स्थित साउथ सिटी में मकान पर बुधवार को एक टीम पहुंची। दूसरी टीम मिर्जापुर में पूर्व एमएलसी मोहम्मद इकबाल के घर पहुंची। इस दौरान टीम ने स्थानीय पुलिस को भी अपने साथ रखा

लखनऊ से बुधवार सुबह ही दोनों टीम उनके घरों में पहुंची और जांच पड़ताल की। इस दौरान पुलिसकर्मी मकानों पर तैनात रहे। किसी को भी मकान के अंदर नहीं जाने दिया और मकान में मौजूद लोगों को भी बाहर नहीं निकलने दिया गया। मीडिया कर्मियों से भी दूरी बनाकर रखी गई।

दोपहर एक बजकर 51 मिनट पर मिर्जापुर में हाजी इकबाल के मकान पर टीम ने ताले खोलने वाला बुलाया, उसको टीम मकान के अंदर ले गई। अनुमान है कि पूर्व एमएलसी के मकान में कुछ अलमारियों के ताले खुलवाए जा सकते हैं, जिनमें अहम दस्तावेज हो सकते हैं।

वहीं अवैध खनन करके पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने के आरोप में हाजी इकबाल के भाई बसपा एमएलसी महमूद अली और अमित जैन के खिलाफ एनजीटी ने हाल ही में 50-50 करोड़ का जुर्माना लगाया था। उसकी वसूली के लिए गत छह अक्तूबर को ही आरसी जारी हुई थी।

उधर, पूर्व एमएलसी ने ईडी के डायरेक्टर सहित अन्य अधिकारियों को ई-मेल भेजकर आरोप लगाया कि टीम कुछ प्राइवेट लोगों के साथ मिर्जापुर स्थित हमारे मकान में घुसी और सीसीटीवी तोड़ दिया। यह भी कहा कि इस मामले में हाईकोर्ट से स्टे ऑर्डर है, बावजूद टीम छापा मारने पहुंची है।