इस वर्ष नवरात्रि में मंदिरों में बलिपूजा, सामूहिक यज्ञ तथा कन्या भोज का आयोजन नहीं होगा…

0
50

सरगुजा समय। अम्बिकापुर। कलेक्टर संजीव कुमार झा की अध्यक्षता में यहां कलेक्टोरेट सभाकक्ष में नवरात्रि पर्व के आयोजन के संबंध में विभिन्न मंदिरों के पुजारियों एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों की बैठक सम्पन्न हुआ। बैठक में कोरोना महामारी के संक्रमण के रोकथाम को दृष्टिगत रखते हुए नवरात्रि के दौरान आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के संबंध में चर्चा कर निर्णय लिया गया कि जिन मंदिरों में बलिपूजा होती है वहां इस वर्ष बलिपूजा नहीं की जाएगी, मंदिरों में सामूहिक यज्ञ नहीं होगा केवल पुजारी द्वारा ही यज्ञ किया जाएगा, मंदिरों में नवरात्रि के अंतिम दिन आयोजित होने वाले कन्या भोजन का आयोजन भी नहीं किया जाएगा। इसके साथ ही किसी प्रकार की सभा, जूलूस या भीड़ बढ़ाने वाले कार्यक्रम का आयोजन भी नहीं होगा।

बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि वर्तमान तकनीक का अधिक से अधिक उपयोग करते हुए मंदिर में देवी दर्शन का आयोजन आॅनलाईन माध्यम से कराएं जाएंगे। इसके लिए फेसबुक के माध्यम से आॅनलाईन आरती एवं देवी दर्शन को बढ़ावा देने का निर्णय लिया गया। इसके साथ ही सभी मंदिरों में एक रजिस्टर रखा जाएगा जिसमें मंदिर आने वाले प्रत्येक श्रद्धालु के नाम, पता, मोबाईल नम्बर तथा मंदिर प्रवेश के समय दर्ज किया जाएगा ताकि कोरोना संक्रमण की पहचान के लिए कांटेक्ट टैªसिंग आसानी किया जा सके।

कलेक्टर संजीव कुमार झा ने कहा कि नवरात्रि के दौरान मंदिरों में आरती, शंख ध्वनि, घण्टा ध्वनि के साथ ही वाद्ययंत्र बजा सकते हैं लेकिन मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं को टीका लगाना, कलेवा बाधना, प्रसाद वितरण, चरणामृत तथा पंचामृत आदि देने पर प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने कहा कि जिन मंदिरों के आस-पास खुले जगह हैं वहां एलईडी टीव्ही लगाकर देवी दर्शन करा सकते हैं जिससे मंदिर में भीड़ कम होगी। इसके साथ ही कोरोना संक्रमण से सुरक्षा की दृष्टि से सभी मंदिरों में सीसीटीव्ही कैमरा जरूर लगाएं। उन्होंने कहा कि अभी से यहां लिए गए निर्णय के बारे में सोशल मिडिया के माध्यम से श्रद्धालुओं को जानकारी दें ताकि नवरात्रि के समय कम से कम लोग मंदिर आएं। मंदिरों में दान देने के लिए बैंक खाता खोले ताकि जो श्रद्धालु मंदिर में दान देना चाहते हैं वे सीधे मंदिर के बैंक खाता में राशि जमा कर सकें। इसके साथ ही मंदिर का व्हाटस एप्प नम्बर भी जारी ताकि लोगों को इससे जानकारी प्राप्त हो सके।

पुलिस अधीक्षक श्री टीआर कोशिमा ने कहा कि नवरात्रि के अवसर पर प्रदेश के बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को मंदिर प्रबंधन कोरोना एंटीजन टेस्ट कराएं। मंदिर में सोशल डिस्टेंस तथा मास्क लगाना अनिवार्य करें। उन्होंने कहा कि नवरात्रि के दौरान सभी मंदिरों में पुलिस की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। महिला पुलिस बल तथा पेट्रोलिंग टीम तैनात रहेंगे। किसी प्रकार की समस्या हो तो तत्काल पुलिस को सूचित करेंगे।
  बैठक में सहायक कलेक्टर विश्वदीप, नगर निगम आयुक्त हरेश मण्डावी, एसडीएम अजय त्रिपाठी, महामाया मंदिर, दुर्गा मंदिर, गायत्री मंदिर सहित शहर के प्रमुख मंदिरों के पुजारी उपस्थित थे।