प्रेमी से मिला धोखा तो किशोरी ने आग को लगा ली गले… फिर हो गई दर्दनाक मौत…

0
124


सरगुजा समय। अंबिकापुर। सरगुजा जिले के उदयपुर थाना क्षेत्र के ग्राम डांडगांव ठाकुरपारा निवासी एक किशोरी ने आग लगाकर आत्महत्या कर ली। वह गांव के ही एक युवक से प्रेम करती थी। दोनों के बीच काफी दिनों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। परिजन को इसकी जानकारी होने पर 29 सितंबर को गांव में पंचायत बुलाई गई थी। पंचायत में युवक ने शादी करने से इंकार कर दिया था।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 16 वर्षीय सुरूचि बिझवार पिता संतु राम उदयपुर थाना क्षेत्र के ग्राम डांडगांव ठाकुरपारा की निवासी थी। उसका गांव के ही युवक से प्रेम संबंध था। परिजन को पता चलने पर 29 सितंबर को गांव में पंचायत बुलाई गई थी। भरी पंचायत में युवक ने सुरूचि से शादी करने से मना कर दिया। इसके बाद किशोरी सदमे में आ गई। घर जाने के बाद किशोरी ने अपने शरीर पर मिट्टी तेल छिड़कर आग लगा ली। परिजन ने किसी तरह आग बुझाई और उसे इलाज के लिए अंबिकापुर मिशन अस्पताल में भर्ती कराया। यहां इलाज में काफी रुपए खर्च होने के बाद जब परिजन के पास रुपए नहीं बचे तो पीडि़ता को 9 अक्टूबर को मिशन अस्पताल से अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया। यहां इलाज के दौरान 10 अक्टूबर की रात उसकी मौत हो गई।
मृतका के परिजन का कहना है कि युवक ने उसे धोखा दिया है। दोनों के बीच काफी दिनों से प्रेम संबंध चल रहा था। इस दौरान युवक ने चोरी छिपे किशोरी को सिन्दूर लगाकर शादी भी कर ली थी। इसके बावजूद भी युवक ने भरी पंचायत में शादी करने से इंकार कर दिया।