बठिंडाः पिता ने अपने तीन बच्चो की हत्या कर की खुदकुशी, दो शव चारपाई पर टांगे, एक पंखे के हुक से….

0
77

सरगुजा समय बठिंडा– पंजाब में गुरुवार की सुबह दिल दहलाने वाली घटना सामने आई। एक शख्स ने अपने तीन बच्चों को मारने के बाद खुदकुशी कर ली। बठिंडा जिले में रामपुरा क्षेत्र के गांव हमीरगढ़ में यह घटना हुई। बताया जा रहा है कि कुछ महीने पहले मृतक की कैंसर ग्रस्त पत्नी की मौत हो गई थी। तभी से वह मानसिक रूप से परेशान चल रहा था।

मिली जानकारी के अनुसार, व्यक्ति ने अपने तीन छोटे बच्चों की रस्सी से गला घोंट कर हत्या की। फिर दो बच्चों के शव चारपाई पर टांग दिए और एक शव को पंखे की हुक से लटका दिया। इस के बाद व्यक्ति ने खुद पंखे से फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। मृतक की पहचान बेअंत सिंह के तौर पर हुई है। मृत बच्चों में पांच वर्ष का बेटा, तीन एवं सवा साल की बच्चियां शामिल है। घटना बुधवार देर रात की बताई जा रही है।
थाना भगता भाईका के एसएचओ अमनपाल सिंह विर्क ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस को घटना की सूचना मिली थी। गांव हमीरगढ़ निवासी बेअंत सिंह ने अपने तीन छोटे बच्चों को मारकर खुदकुशी कर ली है। सूचना मिलते ही थाना भगता के एएसआई कश्मीर सिंह एवं मलकीत सिंह मौके पर पहुंचे।

एएसआई मलकीत सिंह ने बताया कि बेअंत सिंह की पत्नी का कुछ माह पहले कैंसर की बीमारी से देहांत हो गया था। जिसके बाद बेअंत सिंह मानसिक रूप से परेशान चल रहा था। बेअंत ने बुधवार की रात को तीनों बच्चों की रस्सी से गला घोंट कर हत्या कर दी। दो बच्चों के शव चारपाई पर टांग दिए और एक बच्चे के शव को रस्सी से पंखे के हुक पर टांग दिया। इसके बाद आरोपी ने खुद पंखे से फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली।

एएसआई मलकीत सिंह ने बताया कि तीनों बच्चों के गले पर रस्सी के निशान थे। इससे स्पष्ट है कि पहले बच्चों की हत्या की गई, उसके बाद खुदकुशी का मामला बनाने के लिए आरोपी ने बच्चों के शव को चारपाई एवं पंखे की हुक से टांग दिया। घटना के बारे में सुबह मृतक बेअंत की बहन रानी कौर को पता चला तो उसने गांव के सरपंच को सूचित किया। चारो शवों को सिवि