अमेरिकी चुनावों के बाद राजनीतिक विज्ञापनों पर प्रतिबंध लगाएगा फेसबुक

0
2

अमेरिका। अमेरिका में चुनाव है और पूरी दुनिया की नजर वहां टिकी हुई है। कई देशों में ऐसा पहले देखा जा चुका है कि सोशल मीडिया का चुनावों में अहम हिस्सा रहा है। इसी बीच फेसबुक ने बुधवार को कहा कि वह भ्रम या दुरुपयोग की संभावना को कम करने के लिए 3 नवंबर को अमेरिकी चुनावों के बंद होने के बाद राजनीतिक या सामाजिक मुद्दे वाले विज्ञापन चलाना बंद कर देगा।
फेसबुक ने ये भी कहा कि समय से पहले विजेता घोषित करने से पहले या वोटों की गिनती से जुड़ी किसी भी खबर को समाचार आउटलेट और चुनाव अधिकारियों से विश्वसनीय जानकारी के साथ ही पेश किया जाएगा। एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान फेसबुक के एक सीनियर अधिकारी ने कहा, “अगर कोई उम्मीदवार या पार्टी प्रमुख किसी मीडिया आउटलेट द्वारा समय से पहले जीत की घोषणा करता है, तो हम नोटिफिकेशन में विशिष्ट जानकारी जोड़ेंगे कि गिनती अभी भी जारी है और कोई विजेता निर्धारित नहीं किया गया है।”
अमेरिकी चुनावों को ध्यान में रखते हुए इंस्टाग्राम और फेसबुक पर राजनीतिक पोस्ट और एड्स को लेकर नियम कड़े किए जा रहे हैं. फेसबुक के ऊपर दबाव है कि चुनावों के बीच किसी भी तरह की गलत जानकारी साझा न की जाए और सामाजिक विभाजन को भड़काने के लिए इसका इस्तेमाल न किया जा सके। जैसा 2016 में होने वाले राष्ट्रपति चुनावों के दौरान हुआ था। कंटेट पॉलिसी की उपाध्यक्ष मोनिका बीकेट के अनुसार चार साल पहले फेसबुक द्वारा शुरू की गई मतदाताओं की डांट के खिलाफ नीतियों का लगातार विस्तार किया गया है।