अमिरकी चुनाव: डोनाल्ड ट्रंप के कहने पर वैक्सीन नहीं लूंगी मैं… बहस के दौरान बोलीं कमला हैरिस

0
4

अमेरिका। यूनाइटेड स्टेट्स के वाइस प्रेसिडेंट माइक पेंस और डेमोक्रेटिक वाइस प्रेसीडेंट नॉमिनी कमला हैरिस ने बुधवार रात को सॉल्ट लेक सिटी, उटाह में अपनी पहली और एकमात्र बहस पूरी की। यह बहस यूएसए टुडे के सुसान पेज द्वारा संचालित की जा रही थी, जिन्होंने कहा कि बहस के प्रारूप में प्रत्येक उम्मीदवार के प्रश्नों के लिए समय के साथ 10 मिनट के नौ पार्ट शामिल होंगे। इस पहस में कमला हैरिस ने कुछ कमाल की बातें कहीं और ट्रंप प्रशासन के ऊपर लगातार निशआना साधा।
ये कुछ मुख्य बिंदू हैं जो कमला हैरिस ने अपनी पहली बहस में इस्तेमाल किए थे- 


1. अमेरिकी लोगों ने देखा है कि हमारे देश के इतिहास में किसी भी राष्ट्रपति प्रशासन की सबसे बड़ी विफलता क्या है। जो भी उपाध्यक्ष प्रशासन का दावा कर रहा है, स्पष्ट रूप से यह काम नहीं किया है. आप देश में 210,000 शवों को देख सकते हैं। 
2. उन्हें पता था कि क्या हो रहा है (कोरोनावायरस) और उन्होंने आपको नहीं बताया। वे जानते थे, और उन्होंने इसे कवर किया। उन्होंने कहा कि वे आपको नहीं बताएंगे क्योंकि राष्ट्रपति चाहते थे कि अमेरिकी शांत हों। अब आप ही बताइए, जब आपके बच्चों को वापस घर भेजा गया तब आप कितने शांत थे।
3. हम टैक्स और स्वास्थ्य दोनों को लेकर पार्दर्शिता रखने पर विश्वास रखते हैं। ये जानना भी अच्छा होगा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पास किसका पैसा है। अमेरिकियों को पता होना चाहिए कि उनके फैसलों पर क्या प्रभाव पड़ रहा है।

यूनाइटेड स्टेट्स के वाइस प्रेसिडेंट माइक पेंस और डेमोक्रेटिक वाइस प्रेसीडेंट नॉमिनी कमला हैरिस ने बुधवार रात को सॉल्ट लेक सिटी, उटाह में अपनी पहली और एकमात्र बहस पूरी की। यह बहस यूएसए टुडे के सुसान पेज द्वारा संचालित की जा रही थी, जिन्होंने कहा कि बहस के प्रारूप में प्रत्येक उम्मीदवार के प्रश्नों के लिए समय के साथ 10 मिनट के नौ पार्ट शामिल होंगे। इस पहस में कमला हैरिस ने कुछ कमाल की बातें कहीं और ट्रंप प्रशासन के ऊपर लगातार निशआना साधा।
ये कुछ मुख्य बिंदू हैं जो कमला हैरिस ने अपनी पहली बहस में इस्तेमाल किए थे- 
1. अमेरिकी लोगों ने देखा है कि हमारे देश के इतिहास में किसी भी राष्ट्रपति प्रशासन की सबसे बड़ी विफलता क्या है। जो भी उपाध्यक्ष प्रशासन का दावा कर रहा है, स्पष्ट रूप से यह काम नहीं किया है. आप देश में 210,000 शवों को देख सकते हैं। 
2. उन्हें पता था कि क्या हो रहा है (कोरोनावायरस) और उन्होंने आपको नहीं बताया। वे जानते थे, और उन्होंने इसे कवर किया। उन्होंने कहा कि वे आपको नहीं बताएंगे क्योंकि राष्ट्रपति चाहते थे कि अमेरिकी शांत हों। अब आप ही बताइए, जब आपके बच्चों को वापस घर भेजा गया तब आप कितने शांत थे।
3. हम टैक्स और स्वास्थ्य दोनों को लेकर पार्दर्शिता रखने पर विश्वास रखते हैं। ये जानना भी अच्छा होगा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पास किसका पैसा है। अमेरिकियों को पता होना चाहिए कि उनके फैसलों पर क्या प्रभाव पड़ रहा है।

4. जो और मेरा उद्देश्य है अमेरिकी लोगों को ऊपर उठाने का। हमें उन्हीं मूल्यों से पाला गया है। वो मेरे जीवन का सबसे अच्छा दिन था जब मुझे उनसे फोन आया।
5. जो बिडेन का मानना ​​है कि अर्थव्यवस्था के स्वास्थ्य को अमेरिकी श्रमिकों के स्वास्थ्य से मापा जाना चाहिए। लेकिन डोनाल्ड ट्रम्प का मानना ​​था कि अर्थव्यवस्था को इस बात से मापा जाना चाहिए कि लोग कितने अमीर हैं। जो नवाचार, शिक्षा, स्वच्छ ऊर्जा, बुनियादी ढांचे में निवेश करेंगे। वह अमेरिका के लोगों में निवेश करने में विश्वास करते हैं।
6.जो टैक्स में भाी बढ़ोतरी नहीं करेंगे। वो इस बात को लेकर बहुत स्पष्ट हैं। बिडेन अमेरिका को मंदी से वापस लाने के लिए भी जिम्मेदार रहे हैं। 
7. यदि सार्वजनिक स्वास्थ्य पेशेवर, डॉक्टर हमें बताते हैं कि हमें वैक्सीन लेनी चाहिए तो मैं इसे लेने के लिए पहली लाइन में खड़ी रहूंगी। लेकिन अगर ट्रंप हमसे कहते हैं कि हमें इसे लेना चाहिए तो मैं इसे नहीं लूंगी। 
8.डोनाल्ड ट्रम्प ने मित्रता को धोखा दिया और दुनिया के तानाशाहों को गले लगाया। उदाहरण के लिए, रूस को ही ले लीजिए।