Nobel Prize 2020 : DNA में बदलाव करने वाले जेनेटिक सीजर की खोज के लिए Emmanuelle Charpentier और Jennifer A Doudna को मिला केमेस्ट्री का नोबेल पुरस्कार

0
42
image source : twitter

स्वीडिश एकेडमी ने इस वर्ष केमेस्ट्री के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए दो महिला वैज्ञानिकों Emmanuelle Charpentier और Jennifer A. Doudna को नोबेल पुरस्कार देने की घोषणा की है. इन दोनों ने जीन प्रौद्योगिकी के सबसे तेज उपकरणों की खोज की.

इन दोनों वैज्ञानिकों ने CRISPR/Cas9 genetic scissors का निर्माण किया है, जिसके जरिये शोधकर्ता जानवरों, पौधों और सूक्ष्मजीवों के डीएनए में बदलाव कर सकते हैं. इस तकनीक ने जीव विज्ञान पर एक क्रांतिकारी प्रभाव डाला है. इस तकनीक के प्रयोग से कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी के उपचार में मदद मिल रही है. साथ ही जीन आधारित बीमारियों को ठीक करने में भी यह तकनीत काफी कारगर साबित हो रहा.

जेनेटिक सीजर के प्रयोग से वैज्ञानिकों का काम काफी आसान हुआ है और इससे जीवन के कोड को बदलना भी संभव हुआ है. नोबेल पुरस्कार पाने वाली Emmanuelle Charpentier अमेरिका के वांशिगटन की हैं जहां वे प्रोफेसर हैं जबकि Jennifer A. Doudna फ्रांस की हैं, लेकिन अभी जर्मनी के बर्लिन में प्रोफेसर हैं.