दिल्ली के खिलाफ हार के बाद विराट कोहली ने मानी गलती, कहा-यहां से बाजी हमारे हाथ से निकली

0
7
virat kohli rcb vs dc delhi capitals royal challengers bangalore photo-twitter

श्रेयस अय्यर की अगुवाई में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) युवा खिलाड़ियों से सजी दिल्ली कैपिटल्स ने सितारों से भरी विराट कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से आसानी से हरा दिया। दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 196 रन बनाए। टीम की तरफ से ऑलराउंडर मार्कस स्टोयनिस ने सर्वाधिक 53 रन बनाए। इसके अलावा सलामी बल्लेबाजों पृथ्वी शॉ (42) और शिखर धवन (32) ने भी उपयोगी पारियां खेली। इसके जवाब में आरसीबी का पुलिंदा मात्र 137 रनों पर बंध गया। टीम की तरफ से विराट कोहली अकेले लड़े लेकिन जीत नहीं दिला सके। उन्हें पर्पल कैप होल्डर कगिसो रबाडा ने पवेलियन भेजा। मैच के हारने के बाद विराट ने बताया है कि टीम ने किस मौके पर दिल्ली कैपिटल्स को हावी होने का मौका दिया।

आरसीबी के कप्तान विराट कोहली ने स्वीकार किया कि बीच के ओवरों में अच्छी गेंदबाजी के बाद उन्होंने दिल्ली के बल्लेबाजों को खुलकर रन बनाने का मौका दिया। कोहली ने कहा कि चीजें हमारे पक्ष में नहीं रहीं। उनकी शुरुआत शानदार रही और फिर अगले आठ ओवर में हम वापसी करने में सफल रहे लेकिन अंतिम ओवरों में बाजी हमारे हाथ से निकल गई। कोहली को मलाल है कि उनकी टीम की फील्डिंग भी अच्छा नहीं रही।

उन्होंने कहा कि हमें महत्वपूर्ण मौकों को भुनाने की जरूरत है। हमने मुश्किल कैच नहीं बल्कि बिलकुल आसान कैच टपकाए। एक बार फिर हम योजनाओं को अमलीजामा पहनाने में नाकाम रहे। आगामी मैचों में टीम में बदलाव की संभावना पर कोहली ने कहा कि क्रिस आज भी खेलने के काफी करीब था लेकिन टीम में जगह नहीं बना पाया। अगले मैच से पहले हमारे पास चार दिन का समय है और उम्मीद है कि वह उस मैच के लिए तैयार रहेगा।

मैन ऑफ द मैच चुने गए अक्षर ने कहा कि वह पावर प्ले में गेंदबाजी के लिए तैयार थे। बाएं हाथ के इस स्पिनर ने कहा कि विकेट से गेंद धीमी आ रही थी और मैं पावर प्ले में गेंदबाजी करने के लिए तैयार था और मैंने इसके लिए तैयारी भी की थी। उन्होंने कहा कि मैंने योजना बनाई थी कि मैं गेंद की गति में विविधता लाऊंगा और लाइन तथा लेंथ में भी बदलाव करूंगा।