जर्मनी की चीन को चेतावनी, बाजार नहीं खोला तो यूरोप में नहीं कर पाएगा व्यापार

बर्लिन
जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने चीन को चेतावनी दी है कि यदि उसने अपने बाजार नहीं खोले तो यूरोपीय बाजारों में उसका प्रवेश भी सीमित कर दिया जाएगा। यदि कुछ क्षेत्रों में यूरोप के लिए चीन अपने बाजारों में पाबंदी का रास्ता अपनाता है तो उसे इसका अंजाम भुगतना होगा। दो दिवसीय यूरोपियन शिखर सम्मेलन के बाद मर्केल ने कहा कि हम चीन के साथ स्वाभाविक रूप से पारस्परिक निवेश समझौता चाहते हैं। हमने पाया है कि चीन में प्रवेश में किए कई बाधाएं हैं। इन पर भी आगे बात होगी। दरअसल, जर्मनी यूरोप में बीजिंग द्वारा व्यापार करने के रास्ते को सीमित करने पर विचार कर रहा है। मर्केल यूरोपीय संघ के दो दिवसीय विशेष सम्मेलन के बाद ब्रसेल्स में शुक्रवार को पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा, अगर कुछ क्षेत्रों के लिए चीन की ओर से कोई बाजार पहुंच नहीं है, तो निश्चित रूप से इस तथ्य पर भी ध्यान दिया जाएगा कि यूरोपीय बाजार में बाजार की पहुंच कम होगी। उन्होंने कहा, हम स्वाभाविक रूप से चीन के साथ निवेश समझौते के लिए पारस्परिकता की उम्मीद करते हैं, लेकिन चीन के संबंध काफी परेशानियां हैं, जिस पर आगे चर्चा की जाएगी।