हाथरस केस: बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा का सवाल, बेटा होना ही ’विशेषाधिकार’ है, बेटी इतनी ‘परायी’ क्यों?

0
2
Anushka Sharma

देशभर में उत्तरप्रदेश के हाथरस की घटना से आक्रोश है. आरोपियों को कड़ी सजा देने की मांग जारी है. तमाम सवाल किए जा रहे हैं, बेटी के लिए इंसाफ मांगा जा रहा है. जबकि, उत्तरप्रदेश की योगी सरकार प्रशासनिक अधिकारियों पर कार्रवाई करके दोषियों को कड़ी सजा देने का दावा कर रही है. हाथरस की घटना पर बॉलीवुड से भी रिएक्शन आ रहे हैं. अब, बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा ने सोशल मीडिया के जरिए हाथरस की घटना पर पोस्ट लिखा है. पोस्ट के जरिए अनुष्का ने समाज में बेटे-बेटियों के बीच अंतर और लोगों की मानसिकता पर सवाल उठाए हैं. लड़के को ‘विशेषाधिकार’ मिलने पर जवाब मांगा है.

अनुष्का शर्मा अपने इंस्टा पोस्ट में लिखती है, ‘हमारे समाज में एक पुरुष बच्चे को “विशेषाधिकार” के रूप में देखा जाता है. निश्चित रूप से, यह एक महिला होने से अधिक “विशेषाधिकार” नहीं है लेकिन तथ्य यह है कि इस कथित “विशेषाधिकार” को गलत तरीके से और एक अदूरदर्शी दृष्टिकोण के साथ देखा जाता है.‘

इस पोस्ट में अनुष्का आगे लिखती हैं कि ‘एकमात्र “विशेषाधिकार” यह है कि किसी लड़के को सिखाया जाए कि वो एक लड़की का सम्मान करें. एक माता पिता के तौर पर यह पूरे समाज की जिम्मेदारी है. इसलिए इसे एक “विशेषाधिकार” ना समझें. बच्चे का लिंग आपको “विशेषाधिकार” नहीं देता है. असल में यह जिम्मेदारी है कि आप एक लड़के को बढ़ाने के लिए समाज पर एहसान करें जिससे महिलाएं सुरक्षित और संरक्षित महसूस करें.