हाथरस में कांग्रेसियों पर लाठीचार्ज, अपनी गिरफ्तारी देंगे राहुल और प्रियंका

हाथरस
हाथरस में युवती के साथ हुई दरिंदगी की घटना और उसके बाद देर रात किए गए अंतिम संस्कार को लेकर देशभर में लोग बौखलाए हुए हैं। परिवारवालों और पुलिस प्रशासन के अलग-अलग बयान तमाम सवाल खड़े कर रहे हैं। इसी बीच राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के हाथरस पहुंचने की भी सूचना है। इसे लेकर जिले में प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। वहीं आज बिटिया की पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी आ गई है।
राहुल गांधी ने हाथरस जाने के दौरान रोके जाने पर ट्वीट कर सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने लिखा है कि दुख की घड़ी में अपनों को अकेला नहीं छोड़ा जाता। उत्तर प्रदेश में जंगलराज का ये आलम है कि शोक में डूबे एक परिवार से मिलना भी सरकार को डरा देता है। इतना मत डरो, मुख्यमंत्री महोदय!
हाथरस में बिटिया के परिजनों से मिलने जा रहे अलीगढ़ के सपा जिला अध्यक्ष और कार्यकर्ताओं पर हाथरस पुलिस ने लाठियां बरसाईं। सपा जिला अध्यक्ष गिरीश यादव, वरिष्ठ सपा नेता मनोज यादव सहित आधा दर्जन कार्यकर्ता घायल हो गए। पुलिस द्वारा सपा कार्यकर्ता और पदाधिकारियों को बस में भरकर अलीगढ़ पुलिस लाइन लाया गया।
प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा कि हाथरस जाने से हमें रोका गया। राहुल जी के साथ हम सब पैदल निकले तो बारबार हमें रोका गया, बर्बर ढंग से लाठियां चलाईं। कई कार्यकर्ता घायल हैं। मगर हमारा इरादा पक्का है। एक अहंकारी सरकार की लाठियां हमें रोक नहीं सकतीं। काश यही लाठियां, यही पुलिस हाथरस की दलित बेटी की रक्षा में खड़ी होती। हाथरस जाने से पहले ग्रेटर नोएडा में ही रोके जाने के बाद राहुल और प्रियंका ने पैदल ही आगे बढ़ने का फैसला लिया। इसके बाद अब राहुल और प्रियंका ने अपनी गिरफ्तारी देने की बात कही है। बताया जा रहा है कि दोनों कुछ देर में गिरफ्तारी दे सकते हैं।