सड़क की समस्या से जूझ रहा था गांव, जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधियों ने नही दिया ध्यान, ग्रामीणों ने स्वयं श्रमदान और चंदा इकट्ठा कर डेढ़ किलोमीटर सड़क का कर डाला निर्माण…

0
65

अंबिकापुर- सरगुजा जिले के ग्राम खैरबार के ग्रामीण रोड की समस्या से काफी समय से परेशान थे वही इनकी समस्या सुनने वाला कोई जनप्रतिनिधी भी नही हैं। अंत में ग्रामीणों ने अपनी समस्या को खुद ही हल करने का ठानी और श्रमदान कर डेढ़ किलोमीटर की सड़क तैयार कर दी।

अंबिकापुर शहर से सटा यह गांव जहां की आबादी हजारों में है लेकिन इस गांव के इस बस्ती में मूलभूत सुविधाएं भी जनप्रतिनिधि मुहैय्या नहीं करवा पा रहे हैं..इसका जीता जागता उदाहरण यह गांव है जहां ग्रामीणों ने अपने से  श्रमदान और हर घर से 100 से 200 रूपए चंदा कर सड़क का निर्माण किया है..दरसअल इस गांव के लोगो ने सरपंच और सचिव से कई बार सीसी रोड बनाने की मांग की लेकिन आज तक सड़क का निर्माण नही किया गया.. जिसकी वजह से बरसात के दिनों में सड़क में बड़े-बड़े गड्ढे हो जाते है। और आने जाने में गांव वालों को परेशानियों का सामान करना पड़ता हैं…कई बार दुर्घटना से ग्रामीणों को जान भी गवाना पड़ता हैं..

वही इस बारे में जनपद उपाध्यक्ष विशुन दास  को गांव की समस्याओं से अवगत कराया गया तो उन्होंने कहा कि आज मैं इस गांव में जाकर देखूंगा. और मेरे लेटर हेड में इस गांव के रोड की स्वीकृति के लिए पंचायत मंत्री को दूंगा..और जल्द से जल्द इस गांव में सड़क का निर्माण हो सके इसके लिए पूरा प्रयास करूंगा।

लिहाजा अम्बिकापुर शहर से सटा यह गांव आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित भले ही नजर आ रहा..लेकिन ऐसे कई गांव होंगे जहां इस तरह  की सुविधाओं से वंचित है..  लेकिन जनप्रतिनिधियों को और जिला प्रशासन को इसमें ध्यान देने की आवश्यकता है..जिससे कि लोगों को मूलभूत सुविधाएं मिल सके और एक  विकसित ग्राम का निर्माण हो सके.. बहरहाल  देखना होगा की इस गांव में कब तक सड़क बन पाता है या नहीं यह देखने वाली बात होगी।