कोरोना पॉजिटिव महिला ने बच्चे को जन्म तो दिया लेकिन सीने से ना लगा सकी, शायद कुदरत को कुछ और ही था मंजूर…

0
235
नवजात शिशु के लिए बेहद महत्वपूर्ण है 48 घंटे, रखें इन बातों का ध्यान |  TheHealthSite Hindi

अंबिकापुर- मेडिकल कॉलेज अस्पताल में एक कोरोना पीडि़त महिला बच्चे को जन्म तो दी पर उसे सीने से नहीं लगा सकी। कुदरत को कुछ और ही मंजूर था। जन्म के कुछ घंटे बाद बच्चे की मौत हो गई। इधर कोविड अस्पताल के आईसीयू में भर्ती महिला जंदगी और मौत से जंग लड़ रही है।

जशपुर जिले के कांसाबेल निवासी 28 वर्षीय एक महिला 8 महीने की गर्भवती थी। उसे रक्त स्राव की परेशानी होने पर 29 सितंबर की रात इलाज के लिए अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में लाया था। यहां जांच के बाद चिकित्सकों ने ऑपरेशन द्वारा प्रसव कराने की सलाह दी। ऑपरेशन करने से पहले महिला का कोरोना जांच कराया गया। जहां वह पॉजिटिव पाई गई। रिपोर्ट आने के बाद चिकित्सकों ने 30 सितंबर की रात 9 बजे कोविड ओटी में ऑपरेशन कर प्रसव करवाया। समय से पूर्व बच्चे के जन्म होने की वहज से उसका वहजन कम था। बच्चे को एसएनसीयू में रखा गया था। यहां जन्म के कुछ घंटे बाद बच्चे की मौत हो गई। कोरोना पीडि़त महिला के नवजात बच्चे की मौत के बाद उसकी पीड़ा और बढ़ गई। कोरोना के ख़ौफ़ के चलते महिला अपने नवजात बच्चे के चेहरे को भी एक नज़र नही देख सकी। इधर कोविड-19 से पीड़ित महिला की गंभीर हालत देख डॉक्टरों ने उसे कोविड अस्पताल के  आईसीयू वार्ड में भर्ती करा दिया है। महिला की हालत नाजुक बनी हुई है वह जिंदगी और मौत से अस्पताल में जंग लग रही है। चिकित्सकों की विशेष निगरानी में महिला का उपचार चल रहा है।