8.9 C
New York
Sunday, September 26, 2021
Home विदेश एफएटीएफ से पाकिस्तान को नहीं मिल राहत, ग्रे लिस्ट में डालने का...

एफएटीएफ से पाकिस्तान को नहीं मिल राहत, ग्रे लिस्ट में डालने का फैसला

इस्लामाबाद । फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) से पाकिस्तान को राहत नहीं मिल सकी है। एफएटीएफ दुनियाभर में आतंकियों के वित्त पोषण पर निगरानी करता है। इसका मुख्यालय पेरिस में है। एफएटीएफ, पाकिस्तान को फरवरी 2020 तक अपनी ग्रे लिस्ट में डालने को तैयार है। शुक्रवार दोपहर इसकी आधिकारिक घोषणा होनी है।

एफएटीएफ ने मंगलवार को पाकिस्तान को फरवरी 2020 तक अपनी ग्रे लिस्ट में रखने का निर्णय किया। एफएटीएफ ने यह फैसला पाकिस्तान के आतंकियों के वित्तपोषण और कालेधन का प्रयोग करने पर किया है। पाकिस्तान पर संगीन आरोप है कि वह आतंकियों को संरक्षण देने के साथ आतंकवाद को बढ़ावा देता है।

पाकिस्तान के प्रमुख अखबार डॉन ने कहा है कि एफएटीएफ की बैठक में पाकिस्तान के कार्यकलाप के अलावा मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकियों के वित्त पोषण को नियंत्रित करने के लिए किए गए उपायों की समीक्षा की गई। इसमें कहा गया है कि पाकिस्तान को आगामी चार माह में दो मापदंडों पर और कदम उठाने होंगे।

डॉन के अलावा पाकिस्तान के अन्य प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया की रपट में कहा गया है कि एफएटीएफ ने ब्लैक लिस्टिंग के फैसले को मनी लॉन्ड्रिंग और आतंक के वित्त पोषण को रोकने के लिए असंतोषजनक कदम के साथ जोड़ा है। एफएटीएफ अपने फैसले की औपचारिक घोषणा शुक्रवार दोपहर 12:00 (स्थानीय समयानुसार) पर करेगा।

उल्लेखनीय है कि एफएटीएफ ने पाकिस्तान को जून 2018 में ग्रे लिस्ट में रखा था। इस दौरान 27 बिंदुओं पर कार्रवाई के लिए पाकिस्तान को 15 महीने का समय दिया गया। पाकिस्तान को आतंकवाद के वित्त पोषण और कालेधन के खिलाफ कार्रवाई करनी थी। दोपहर एफएटीएफ की संभावित घोषणा का बड़ा असर यह होगा कि कंगाली के चक्रव्यूह में फंसे पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष और विश्व बैंक से कर्ज ले पाना और भी मुश्किल हो जाएगा।

शुभांकुर पाण्डेय प्रधान कार्यालय
प्रधान संपादक- शुभांकुर पाण्डेय
प्रधान कार्यालय – लोक नायक जय प्रकाश वार्ड क्रमांक 29 मायापुर अम्बिकापुर जिला सरगुजा छत्तीसगढ़ 497001 नोट :- सरगुजा समय वेबसाइट एवं अख़बार में पोस्ट किये गए समाचार में कई अन्य उपयोगकर्ताओं द्वारा प्रस्तुत सामग्री (समाचार,फोटो,विडियो आदि) शामिल होता है ,जिससे सरगुजा समय इस तरह के सामग्रियों के लिए कोई ज़िम्मेदारी स्वीकार नहीं करता है। सरगुजा समय में प्रकाशित ऐसी सामग्री के लिए संवाददाता/खबर देने वाला स्वयं जिम्मेदार होगा, सरगुजा समय या उसके स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक की कोई भी जिम्मेदारी किसी भी विवाद में नहीं होगी. सभी विवादों का न्यायक्षेत्र अम्बिकापुर जिला सरगुजा छत्तीसगढ़ होगा।
RELATED ARTICLES

PM मोदी आज करेंगे UNGA को संबोधित, आतंकवाद पर देंगे कड़ा संदेश

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें सत्र को संबोधित करेंगे। इस दौरान वो कोरोना...

Corona: फिर बढ़ने लगी संक्रमितों की संख्या, देश में आज मिले 34,403 नए केस, पढ़िए स्वास्थ्य़ मंत्रालय की कोरोना रिपोर्ट

नई दिल्ली। देश में एक दिन में कोविड-19 के 34,403 नए मामले सामने आए हैं। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या घट कर...

America के फ्लोरिडा में गोलीबारी, नवजात सहित 4 लोगों की मौत

अमेरिका के दक्षिणी प्रांत फ्लोरिडा के लेकलैंड में गोलीबारी में नवजात सहित चार लोगों की मौत हो गयी। स्थानीय...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

राशिफल 26 सितंबर 2021: रविवार का दिन 5 राशियों के लिए रहेगा जबरदस्त, जानें अन्य का हाल

Horoscope Today 26 September 2021, Aaj Ka Rashifal, Daily horoscope: पंचांग के अनुसार 26 सितंबर 2021, रविवार को आश्विन मास की कृष्ण पक्ष...

Aaj Ka Panchang: पंचांग 26 सितंबर 2021, जानें शुभ मुहूर्त, राहु काल और ग्रह-नक्षत्र की चाल

पंचांग 26 सितम्बर 2021, रविवार विक्रम संवत - 2078, आनन्दशक सम्वत - 1943, प्लवपूर्णिमांत - आश्विनअमांत - भाद्रपद हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, आश्विन कृष्ण पक्ष...

, आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई…8900 कैरेट के बेहिसाबी हीरों का चला पता…छापेमारी के दौरान 1.95 करोड़ रुपए नगदी और आभूषण जप्त

नई दिल्ली।  आयकर विभाग ने गुजरात के एक प्रमुख हीरा कारोबारी के यहां छापेमारी कर न सिर्फ 10.98 करोड़ रुपये मूल्य के 8900...

बड़ी खबर – छत्तीसगढ़ में शिक्षक भर्ती मामला, 2300 शिक्षकों की नियुक्ति का रास्ता साफ, हाइकोर्ट ने हटाई रोक

बिलासपुर – शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर दायर याचिका के मामले में चयनित प्रतियोगियों की हस्तक्षेप याचिका पर हाईकोर्ट में आज शुक्रवार...

Recent Comments

error: Content is protected !!