8.9 C
New York
Wednesday, July 28, 2021
Home रायपुर इस साल राज्य में 10 फीसद अधिक हुई बारिश

इस साल राज्य में 10 फीसद अधिक हुई बारिश

रायपुर। राजधानी समेत प्रदेशभर में इस साल 10 प्रतिशत अधिक बारिश हुई है। मौसम विज्ञान विभाग की ओर से 1,142.1 मिली मीटर औसत बारिश की जगह इस साल 1,255.60 मिली मीटर बारिश रिकार्ड हुई है। सरकारी आंकड़ों को देखें तो रायपुर में अभी तक रायपुर तहसील में 51.3 मिमी., आरंग में 72 मिमी, अभनपुर में 37 मिमी और तिल्दा में 31.3 मिमी वर्षा हुई। जिले में एक जून से अब तक औसत रूप से 926.1 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है। कलेक्टर कार्यालय के भू-अभिलेख शाखा से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस वर्ष अभी तक रायपुर तहसील में 958.7 मिमी, आरंग में 1183.2 मिमी, अभनपुर में 860.5 मिमी और तिल्दा तहसील में 701.9 मिमी वर्षा दर्ज की गई है।

यह वर्षा जिले में पिछले 10 वर्षों में हुई औसत वर्षा 1052.8 मिमी. की तुलना में 88 प्रतिशत है। दक्षिण पूर्व मानसून की बिदाई 10 अक्टूबर से होने की संभावना है। सामान्य बिदाई का समय एक सितंबर है।

इसके पूर्व मानसून की विदाई उत्तर-पश्चिम भारत से एक अक्टूबर 1961 और 30 सितंबर 2007 में हुई थी। इस साल छत्तीसगढ़ में 15 अक्टूबर तक विदाई होने की संभावना है। प्रदेश के कई इलाकों में हल्की और मध्यम बारिश होने की संभावना है। कुछ जगहों पर गरजचमक के साथ बारिश हो सकती है।

पूरे देश में रहा सक्रिय मानसून

पूरे देश में मानसून सक्रिय रहा है। इस बार बारिश 110 प्रतिशत रहा जो कि दी लंबी अवधि औसत 88 सेंटीमीटर रहा है। देशभर में मौसम के क्षेत्र को 36 डिविजन में बांटा गया है । दो सब डिविजन में अत्यधिक बारिश रिकार्ड हुई है।

10 सब डिविजन में अधिक, 19 सब डिविजन में सामान्य बारिश रही। 05 सब डिविजन में थोड़ी कमी भी मिली है। पूरे देश में जुलाई, अगस्त और सितंबर में क्रमश दीर्घावधि औसत से देश में 105 प्रतिशत, 115 प्रतिशत और 152 प्रतिशत बारिश हुई है। यदि इसमें देखा जाए तो 2019 मानसून की स्थिति नंबर एक है। साल 1994 में 110 में औसत दीर्घावधि बारिश हुई थी। साल 2019 में भी 110 में बारिश हुई है।

2001 से लेकर 2019 तक उत्तर-पूर्वी भारत में दीर्घा अवधि बारिश से कम वर्षा हुई जिसमें 2007 में अपवाद था। 1931 के बाद जून में 30 प्रतिशत कम बारिश होने के बावजूद दीर्घा अवधि वर्षा से ज्यादा बारिश हुई है। इसी तरह अगस्त 1996 में 119 प्रतिशत औसत दीर्घावधि बारिश हुई थी।

इसके बाद इस साल 115 प्रतिशत दीर्घावधि बारिश हुई थी। सितंबर 2019 में दूसरी बार 152 प्रतिशत औसत दीर्घावधि बारिश हुई थी। उसके पहले 1917 में 165 प्रतिशत दीर्घावधि औसत बारिश हुई थी। 2010 के बाद हर साल जुलाई, अगस्त और सितंबर में दीर्घावधि औसत वर्षा अधिक बारिश हुई है। सबसे अधिक बारिश अगस्त और सितंबर में है। अगस्त-सितंबर में दीर्घावधि औसत से 130 सेंटी मीटर बारिश रिकार्ड हुई है।

शुभांकुर पाण्डेय प्रधान कार्यालय
प्रधान संपादक- शुभांकुर पाण्डेय
प्रधान कार्यालय – लोक नायक जय प्रकाश वार्ड क्रमांक 29 मायापुर अम्बिकापुर जिला सरगुजा छत्तीसगढ़ 497001 नोट :- सरगुजा समय वेबसाइट एवं अख़बार में पोस्ट किये गए समाचार में कई अन्य उपयोगकर्ताओं द्वारा प्रस्तुत सामग्री (समाचार,फोटो,विडियो आदि) शामिल होता है ,जिससे सरगुजा समय इस तरह के सामग्रियों के लिए कोई ज़िम्मेदारी स्वीकार नहीं करता है। सरगुजा समय में प्रकाशित ऐसी सामग्री के लिए संवाददाता/खबर देने वाला स्वयं जिम्मेदार होगा, सरगुजा समय या उसके स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक की कोई भी जिम्मेदारी किसी भी विवाद में नहीं होगी. सभी विवादों का न्यायक्षेत्र अम्बिकापुर जिला सरगुजा छत्तीसगढ़ होगा।
RELATED ARTICLES

सरगुजा – तेज रफ्तार बोलेरो गिरी पुल के नीचे, मौके पर एक कि दबने से मौत तीन गंभीर रूप से घायल

सरगुजा – ग्राम भकुरमा से लेमरू जा रही बोलेरो क्रमांक सीजी12/एएच/4604 बसवार जोगी नाला पुलिया पर अनियंत्रित होकर गिर गई। जिससे वाहन में...

सत्ता के मद में मदमस्त हैं कांग्रेसी, किसानों के दर्द से उन्हें कोई लेना देना नहीं- अनिल मेजर

अंबिकापुर : भाजपा प्रदेश संगठन के आह्वान पर भाजपा किसान मोर्चा का किसानों के मुद्दों को लेकर विधानसभा स्तरीय धरना प्रदर्शन आज...

BIG NEWS : छग विधानसभा का मानसून सत्र आज से, हंगामे के साथ आगाज के आसार, विपक्ष ने बनाई सरकार को घेरने की रणनीति

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र आज से शुरु होगा। पांच दिनों तक संचालित होने वाले इस सत्र में आज दिवंगत नेताओं...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रात को भोजन में पिता-पुत्र और भतीजे ने खाई मछली की सब्जी, सुबह होते ही तीनों ने तोड़ा दम, पुलिस ने जताई इसकी आंशका

पटनाः  शाम को घर में मछली पकाकर खाना एक ही परिवार के तीन लोगों को महंगा पड़ गया. रात को सब्जी में मछली...

BIG BREAKING : प्रदेश के 27 प्राचार्यों और व्याख्याताओं को दी गई BEO की जिम्मेदारी, स्कूल शिक्षा विभाग ने जारी किया आदेश

रायपुरः शिक्षा विभाग ने बड़े पैमाने पर प्रदेश के अलग अलग स्कूलोें में पदस्थ व्याख्याताओं और प्राचार्यों को विकासखंड शिक्षा अधिकारी बना दिया...

बड़ी खबर: विधानसभा का मानसून सत्र, स्वास्थ्य मंत्री सदन छोड़ कर बाहर निकले, कही ये बड़ी बात

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन भी कांग्रेस विधायक बृहस्पत सिंह मामले को लेकर हंगामा हुआ। इस बीच स्वास्थ्य मंत्री...

हैवानियत की हद: मां से मिलने के बहाने ले गया, सेक्स किया और फिर गला दबाकर ली पत्नी की जान

नई दिल्ली। एक सनसनीखेज मामले सामने आया है। मां से मिलने के बहाने ले गया, फिर सेक्स करने के बाद गला दबाकर हत्या...

Recent Comments

error: Content is protected !!